Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

मुंबई की AC लोकल में सो रहे हैं टीसी, कुछ तो चार दिन से घर ही नहीं गये

05, Jan 2018 By बगुला भगत

मुंबई. पहले लोकल ट्रेन में पैसेंजर अंदर होते थे और टीसी बाहर! एक तो टीसी लोग भीड़ की वजह से लोकल में चढ़ ही नहीं पाते थे या वे ख़ुद ही नहीं चढ़ना चाहते थे। लेकिन जब से मुंबई में एसी वाली नयी लोकल शुरु हुई है, तब से तो पूरा सीन ही बदल गया है। अब पैसेंजर बाहर हैं और टीसी अंदर!

Mumbai AC Local4
अब पैसेंजर बाहर हैं और टीसी अंदर

यानि एसी लोकल की वजह से टीसी समुदाय की चाँदी हो गयी है। किराया ज़्यादा होने की वजह से एसी लोकल में पैसेंजर कम और टीसी ज़्यादा नज़र आ रहे हैं। एक-एक डिब्बे में 10-10 टीसी टिकट चेक करते घूम रहे हैं, जबकि डिब्बे में पैसेंजर हैं कुल पाँच!

हालत ये हो गयी है कि प्लेटफ़ॉर्म पे टीसी के दर्शन दुर्लभ हो गये हैं। कई टीसी तो चार-चार दिन से अपने घर ही नहीं गये हैं, ट्रेन में ही लेट मार रहे हैं। कुछ तो ऐसे भी हैं, जो घर से अपनी चटाई-कंबल भी ले आये हैं और ट्रेन में ही सो रहे हैं।

ऐसे ही एक टीसी ने ट्रेन में फ़ेकिंग न्यूज़ के रिपोर्टर से बात की। नाम ना छापने की शर्त पर उसने कहा कि “पहले तो भाईसाब हम प्लेटफ़ॉर्म पे ही धक्के खाते रहते थे। उस लोकल में चढ़ना तो एवरेस्ट पे चढ़ने से भी ज़्यादा मुश्किल था। और अगर चढ़ जाते थे तो लोग उतरने नहीं देते थे। कभी-कभी तो जेब भी कट जाती थी।”

“अब कहीं जाकर चैन की ज़िंदगी नसीब हुई है। अब कुछ दिन तो एसी का मज़ा ले लेने दो!” -कहकर टीसी भाईसाब सीट पे लंबलेट हो गये।



ऐसी अन्य ख़बरें