Monday, 19th February, 2018

चलते चलते

'जल्दी बन सकता है राम मंदिर' -यह सुनकर बीजेपी में हड़कंप, मोदी जी ने श्री श्री को दिल्ली बुलाया

16, Nov 2017 By बगुला भगत

अयोध्या. आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर नहा-धोकर राम मंदिर बनवाने के पीछे पड़ गये हैं। वो पिछले कई दिनों से मौलानाओं और संतों से मिलते घूम रहे हैं। इसे देखकर लग रहा है कि दोनों पक्षों में जल्द ही कोई सहमति बन जायेगी और अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ़ हो जायेगा। लेकिन इस ख़बर से बीजेपी में हड़कंप मच गया है।

yogi-sri-sri-shankar
श्री श्री जी को समझाते मुख्यमंत्री योगी

इस मुद्दे पर पार्टी में मतभेद खुलकर सामने आ गये हैं। पार्टी के नेता कन्फ़्यूज हैं कि उनका ज़्यादा फ़ायदा मंदिर बनने में है या पंद्रह-बीस साल और लटकने में! प्रधानमंत्री मोदी भी श्री श्री की पहल को देखकर थोड़े विचलित हो गये और उन्होंने तुरंत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की।

मोदी जी ने योगी से कहा कि वो श्री श्री को बोलें कि ज़्यादा हड़बड़ी दिखाने की ज़रूरत नहीं है। निर्देश का पालन करते हुए योगी जी ने श्री श्री को ‘चिल’ करने और मंदिर की ज़्यादा टेंशन ना लेने की सलाह दी है। आधे घंटे तक चली मुलाक़ात में वो श्री श्री को यही समझाते रहे।

“मंदिर की टेंशन आप हम पे छोड़ दीजिये। हम अपने आप देख लेंगे कि उसे कब और कैसे बनाना है! आप बस लोगों को ध्यान वगैरह सिखाइए और उनकी टेंशन दूर करने पर ध्यान दीजिये।” फिर योगी जी धीरे से ‘आर्ट ऑफ़ लिविंग’ के संस्थापक का हाथ दबाते हुए बोले कि “अब आप ‘आर्ट ऑफ़ लीविंग’…मतलब अयोध्या छोड़ देने की कला सीखिये!”

इसके बाद मीडिया से बात करते हुए योगी जी ने कहा कि “सिर्फ़ शियाओं से काम नहीं चलेगा, मंदिर के लिये हमें सबको मनाना पड़ेगा।” यह कहकर वो श्री श्री की तरफ़ देखकर मुस्कुराए और बोले कि “हम किसी को नाराज़ करके मंदिर नहीं बनाना चाहते। अगर एक भी बंदा नाराज़ रह गया तो भगवान भी नाराज़ हो जायेंगे!”



ऐसी अन्य ख़बरें