Saturday, 25th March, 2017
चलते चलते

शहाबुद्दीन ने दारू पीने के लिया कराया तिहाड़ में ट्रांसफर, हरीराम नाई का खुलासा

02, Mar 2017 By bapuji

सीवान/नयी दिल्ली. बाहुबली और आरजेडी के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन अभी हाल में ही सुर्ख़ियो मे तब आए जब अचानक उन्हें सीवान जेल से विश्व-प्रसिद्ध तिहाड़ जेल में ट्रांसफर कर दिया गया। इसकी वजह सुप्रीम कोर्ट का फरमान बताया जा रहा था लेकिन सीवान जेल के हरीराम नाई द्वारा किए गये एक सनसनीखेज खुलासे से एक चौंका देने वाला सच सामने आया है, जिसे सुनकर पाठकों को चक्कर आ जायेगा।

shahabuddin
कान लगाकर सुनता हरिराम नाई

सीवान में शहाबुद्दीन की सेवा में तैनात हरीराम नाई ने फ़ेकिंग न्यूज़ के संवाददाता को बताया कि “बाहुबली ने अपना ये ट्रांसफर ख़ुद कराया है। उन्हें रोज़ रात को तलब लगती थी और इधर नीतीस बाबू की वजह से डेली के डेली ‘बंदोबस्त’ होना मुसकिल हो रहा था। इसलिये उन्होंने दिल्ली से जुगाड़ लगवाकर खुद्दे ही अपना ट्रांसफर तिहाड़ में करा लिया।”

उस्तरा रगड़ते हुए हरीराम ने आगे कहा- “असल में जब से नीतीसवा ने शराबबंदी किया है ना, तभी से विधायक जी बहुते परेसान रहते हैं। दिन-रात नीतीसवा को गाली देते रहते थे। एक दिन हमसे बोले कि  “अब नही सहा जाता हरीराम! अब हम चले दिल्ली! कम से कम उहां दारू तो मिलेगा दिन रात!”

वहीं, जब शहाबुद्दीन से इस बारे में पूछा गया तो वो चुगलखोर हरीराम पर बरस पड़े- “इस ससुरे हरीराम के पेट में कौनो बात पचता नहीं है। वैसे वो कह तो सही रहा है। वहाँ साला नितिसवा जीना हराम कर दिये थे। जब चार दिन तक एक बूँद दारू भी नसीब नही हुआ, तब हम दिल्ली फोन घुमाए!”

यहाँ पर शराब की उपलब्धता के बारे में पूछने पर शहाबुद्दीन खुश होते हुए बोले कि “यहाँ कोनो टेंसन नहीं है। काफी बढ़िया अरेंजमेंट है।” -कहते हुए उन्होने जेब से एक रॉयल स्टेग की बोतल निकालकर अपने लिए एक छोटा पैग बनाया और काफ़ी मना करने के बावजूद हमारे रिपोर्टर के लिए भी एक ‘लिटिल वन’ बना दिया, जिसे उस बेचारे ने मन मारकर पी लिया और अगले के लिये भी मना नहीं किया।

बहरहाल, बाहुबली को तिहाड़ भेजकर मुख्यमंत्री नीतीश इसे शराब बंदी क़ानून की सफलता के तौर पर देख रहे हैं और इस सफलता के लिए अपने अफसरों को शाबासी दी है।



ऐसी अन्य ख़बरें