Tuesday, 24th October, 2017

चलते चलते

"CBI वाले भी आजकल कामचोर हो गए हैं, बहुत दिन से घर पे छापा ही नहीं मारा" -लालू यादव

05, Oct 2017 By Ritesh Sinha

पटना. बहुत दिन हो गए CBI ने लालू प्रसाद यादव के घर छापा नहीं मारा है, वरना कुछ दिनों पहले हर तीसरे दिन CBI उनके घर का चक्कर लगा रही थी। इस बात का ग़म लालू प्रसाद यादव को भी सता रहा है। कल ही उन्होंने एक कांफ्रेंस करके CBI पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा, “ये CBI के अफसर आजकल बहुत कामचोर हो गए हैं! काम-धाम पे ध्यान ही नहीं देते! अब बताओ! एकठो महीना हो गया, हमरे घर पे छापा ही नहीं मारे हैं! ऐसा होता है क्या?”

Lalu-CBI
सीबीआई की सुस्ती पर गरजते लालू यादव

जब रिपोर्टर्स ने उनसे पूछा कि वो ऐसा क्यों कह रहे हैं? तो उन्होंने जवाब दिया कि “अरे! कैसे नहीं कहेंगे? राबड़ी इंतज़ार कर रही है, हम इंतज़ार कर रहे हैं, और तो और, तेजस्वी तक अपने CBI वाले अंकल का रास्ता देख रहा है! ‘आज आएँगे CBI अंकल..आज आएँगे’- बोलता रहता है! पर ससुरे आते ही नहीं! अब तो आँखें थक गई हैं, इनके इंतज़ार में! घर में साफ़-सफाई भी करवा दिया है, अब तो आ जाओ!”

इसके बाद उन्होंने अपने दोनों हाथ उठा लिये और मोदी को कोसने लगे, “ये सब नरिंदर मोदी के नाक के नीचे हो रहा है! उसके अफसर काम नहीं कर रहे और उसे पता ही नहीं है! हमने तो पहले दिन ही कह दिया था, देश चलाना मोदी के बस का बात नहीं है! हटाओ इस बुड़बक को!” -लालू गरजे।

इस बीच, पत्रकारों को लगा कि शायद प्रेस-कांफ्रेंस ख़त्म हो गई है और वे सब उठकर जाने लगे। यह देखकर लालू भड़क गए- “अरे ओ पत्तरकार! अभी तो हमने नीतीस को गरियाया ही नहीं है, ऐसे कैसे उठकर जा रहे हो! बैठो अभी!” -कहकर लालू ने पत्रकारों को फिर से बिठा दिया और नीतीश को कोसने लगे- “ई नीतीस ने हमरे पीठ पे चाकू मारा है! काला नाग से कम नहीं है ई नीतीसवा! बिहार की जनता सब देख रही है!”

उधर, एक्सपर्ट्स का मानना है कि लालू यादव इस बार गलत नहीं बोल रहे हैं, उनकी मांग जायज है। अगर CBI वाले उनके घर छापा नहीं मार रहे हैं, तो पक्का है कि वे ऑफिस में बैठकर गप्पे हांक रहे होंगे। वहीं, भाजपा के प्रवक्ताओं ने इस मसले पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें