Wednesday, 25th April, 2018

चलते चलते

"देश के युवा थक चुके हैं!" राहुल गाँधी के इस बयान से भड़के देश के युवा

17, Mar 2018 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. कांग्रेस के वार्षिक अधिवेशन को संबोधित करते हुए राहुल गाँधी ने दावा किया कि “देश के युवा थक चुके हैं, और उन्हें मोदीजी में कोई रास्ता नज़र नहीं आ रहा है! सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही इस देश को सही रास्ता दिखा सकती है!” जैसे ही कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने विचार रखे देश के युवा आग बबूला हो उठे। ख़बरें आ रही हैं कि कई शहरों में युवाओं ने रैली निकालकर अपनी ‘एनर्जी’ का सबूत दिया है। विरोध प्रदर्शन में शामिल युवाओं का कहना है कि देश का कोई भी नौजवान थका हुआ नहीं है।

rahul-janeu-sad
हालात से दुखी खड़े राहुल जी

मुंबई की रैली में नारे लगा रहे पच्चीस साल के नारायण साणे ने राहुल गाँधी पर अपना गुस्सा निकाला कि, “देख भाई! ना मैं ओलंपिक की तैयारी कर रहा हूँ और ना ही मैं ‘मुंबई लोकल’ में सफ़र करता हूँ, तो मैं क्यों थकूंगा? राहुल गाँधी को सोच समझकर बोलना चाहिए! थके हुए तो उनकी पार्टी के नेता लगते हैं! उन्होंने देश के युवाओं का अपमान किया है, इसलिए उन्हें माफ़ी मांगनी चाहिए!” कहते हुए वे पत्रकारों को पोज देने लगे।

वहीँ भोपाल में रैली की अगुवाई कर रहे बीजेपी युवा नेता शिवराज पांडे ने कहा कि, “देखिए! देश का युवा बिल्कुल भी थका हुआ नहीं है! फिर राहुल गाँधी ने कैसे कह दिया कि देश का नौजवान थका हुआ है! मैं आज भी सुबह उठकर जिम जाता हूँ और वहां बीस किलो वाला डम्बल जैसे-तैसे उठा लेता हूँ!” -कहते हुए साहू जी ‘राहुल बाबा हाय-हाय’ के नारे लगाने लगे।

भाजपा के स्टार प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रश्न किया है कि, “कांग्रेस पार्टी के नेता तो राहुल गाँधी को भी ‘युवा नेता’ कहते हैं, तो क्या वे भी थके हुए हैं?”

उधर, विवाद बढ़ता देख कांग्रेस पार्टी ने सफाई देते हुए कहा है कि, “देखिए! अध्यक्ष जी का वो मतलब नहीं था! आज शाम को वे फिर से भाषण देने वाले हैं, उसी समय वे खुलासा करेंगे कि वाकई में वे क्या कहना चाहते थे!”



ऐसी अन्य ख़बरें