Wednesday, 22nd November, 2017

चलते चलते

राहुल गांधी ने कहा ''बीवो और वोप्पो'' के विज्ञापन बंद करवाने के लिए मिला चीनी राजदूत से

11, Jul 2017 By banneditqueen

एजेंसी. चीन कई दिनों से भारत पर दबाव बनाने की कोशिशें कर रहा है, ऐसे में कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा चीनी राजदूत से गुपचुप मुलाक़ात करना काफी बड़ा राजनीतिक मसला बन गया। पहले तो कांग्रेस के सदस्य इस बात से इंकार करते रहे पर जब राहुल गाँधी ने खुद इस बात की पुष्टी की तब उन्हें बगले झांकना पड़ा।

''मैंने तो सोचा था शिनचैन चाइनीज़ है ''
”मैंने तो सोचा था शिनचैन चाइनीज़ है ”

जब राहुल गाँधी से इस बारे में फेकिंग न्यूज़ ने बातचीत कर जानना चाहा कि आखिर वे चीनी राजदूत से चुपचाप क्यों मिले तो उन्होंने पहले तो कहा कि ”मैं शिनचैन कार्टून के बारे में बातचीत करने के लिए गए थे।” तभी किसी ने कहा कि ”शिनचैन तो जापानी कार्टून है न कि चीनी” तब राहुल गांधी झुंझला कर बोले कि ”आप मोदी से क्यों नहीं पूछते कि वो पूरी दुनिया में क्यों घूमते रहते हैं।” ऐसा कहकर राहुल गांधी वहाँ से चले गए।

बवाल होने पर बाद में राहुल गांधी की तरफ से बयान आया कि ”देखिये मैं चीनी सरकार से केवल  इतना अनुरोध करने गया था कि वे हमारे टीवी पर कब्ज़ा करना बंद करें। मैं बीवो और बोप्पो के विज्ञापन देख देख कर तंग आ चुका हूँ। बस यही बात करने के लिए मैं चीनी राजदूत से मिला।” बताया ये भी जा रहा है कि राहुल गांधी उनका चाइनीज़ खिलौना खराब  शिकायत करने के लिए गए थे।



ऐसी अन्य ख़बरें