Tuesday, 25th July, 2017
चलते चलते

किसी 'करीबी रिश्तेदार' की बड़ी प्रॉपर्टी डील के सिलसिले में मिले थे चीनी राजदूत से राहुलः सूत्र

11, Jul 2017 By bapuji

नयी दिल्ली. भारत के राजनीतिक गलियारों में कल एक ज़लज़ला सा आ गया, जब कॉंग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी और चीनी राजदूत की सीक्रेट मीटिंग की खबर मीडिया मे लीक हुई। सभी पार्टियों के नेताओं के अंदर चाणक्य की आत्मा का प्रवेश हो गया और सब इस मुलाकात के बारे में अपने-अपने कयास लगाने लगे। लेकिन फ़ेकिंग न्यूज़ ने इस मुलाकात की असली वजह का पता लगा लिया है, जिसे जानकर हमारे पाठक चौक पड़ेंगे। जी हाँ! यह ख़ुफ़िया ख़बर हमें एक अत्यंत ही ख़ुफ़िया सूत्र (राहुल जी का रसोइया मंटू) से प्राप्त हुई है।

Rahul-Gandhi1
रिश्तेदार की प्रॉपर्टी डील पर बात करते राहुल जी

रसोइया मंटू, जो कि राहुल बाबा के लिए पास्ता और क्रंची शेक बना रहा था, उसने चोरी से राहुल जी और उनके बड़के साहेब राबट रिश्तेदार की फ़ोन पर हुई बात सुन ली। हमारे संवाददाता के पूछने पर उसने बताया कि “बड़के साहब (राबट जी) शायद चीन देश को खरीदने की सोच रहे है! और तो और, उन्होने तो पूरे चीन के नकली कागज भी भी बनवा लिए हैं। जब उनके कंपनी ने चीन के प्रीमियर झींपिंग (ग्यारहवें) को वे कागज दिखाए तो चीन मे हड़कंप मच गया ! इतने पक्के कागज तो चीन के पास खुद भी नही थे। घबरा के उन्होंने अपने राजदूत को बात करने और ज़मीन का रेट बढ़ाने के लिए भेज दिया। अब बड़के साहब बिजी थे तो राहुल बाबा चले गये मीटिंग करने।”

गुटका थूक कर मंटू ने आगे बताया कि “बड़के साहेब कहे रहे कि सर्किल रेट से एक पैसा अधिक का सौदा मत करना लेकिन राहुल बाबा पोकेमोन का गिफ्ट पा के खुश हो गये और डबल रेट में भाव तय कर के आ गये और इधर राजनीति मे अलगे बवाल हो गया। कल से बहुत डाँट पड़ी है बाबा को!” हमारे ख़ुफ़िया सूत्र ने धीरे से कान में बताया।

बहरहाल, अब देखना है कि चीन को खरीदने का ये राबट जी का ये महान सपना साकार होता है या नही? फ़ेकिंग न्यूज़ इस डीलिंग से जुड़ी हर खबर आपको देता रहेगा।



ऐसी अन्य ख़बरें