Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

'पैराडाइज पेपर्स' में भारत के 19वें स्थान को भी अपनी उपलब्धि बता बैठे मोदी जी

06, Nov 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. क्रेडिट लेने के चक्कर में प्रधानमंत्री मोदी से आज फिर एक भयानक कांड हो गया। ‘पैराडाइज पेपर्स’ में भारत के 19वें नंबर पर आने के लिये वो ग़लती से अपनी पीठ थपथपा बैठे। जैसे ही मोदी जी को पता चला कि भारत एक लिस्ट में 19वें नंबर पर आ गया है, तो उन्होंने तुरंत इसका श्रेय ख़ुद को देना शुरु कर दिया।

Modi- Paradise
पैराडाइज पेपर्स का क्रेडिट लेते प्रथानमंत्री मोदी

लिस्ट का नाम ‘पैराडाइज पेपर्स’ सुनकर वो और भी ज़्यादा जोश में आ गये और तालियाँ पीटते हुए बोले- “देखा बहनो-भाईयो! तीन साल में ही हम ‘स्वर्ग वाले काग़ज़ों’ (पैराडाइज पेपर्स) में 19वें नंबर पे आ गये! मैं सवा सौ करोड़ देशवासियों को भरोसा दिलाता हूँ कि 2022 तक भारत को इन पेपरों में पहले नंबर पे पहुँचा दूँगा। ये मेरा वादा है!” उनके ये बोल सुनकर हॉल में सन्नाटा छा गया।

“और मुझे ख़ुशी है कि इन पेपरों में हमारे महानायक अमिताभ बच्चन जी का भी नाम है। उनकी इस उपलब्धि पर मैं उन्हें कोटि-कोटि प्रणाम करता हूँ और कामना करता हूँ कि वो इसी तरह देश और दुनिया में भारत का नाम रोशन करते रहें…!” -उन्होंने सीने पर हाथ मारते हुए कहा।

मोदी जी को कांड पे कांड करता देख फ़ाइनेंस सेक्रेटरी के हाथ-पाँव फूल गये। उन्होंने उठकर उनके कान में कुछ कहा, जिसके बाद वो अचानक शांत हो गये। फिर अचानक गला साफ़ करते हुए बोले- “मित्रो! पिछले 60 सालों में कांग्रेस ने करप्शन के अलावा इस देश को कुछ नहीं दिया। हम आज तक इनके पैराडाइज वाले पापों को ढो रहे हैं!”

सेक्रेटरी ने फिर से कान में कहा कि “प्राइम मिनिस्टर सर, इस लिस्ट में हमारे बंदों का भी नाम आ रहा है, इसलिये आप ‘पैरडाइज’ का ज़िक्र ही मत करो!” इस पर मोदी जी फिर से गला साफ़ करते हुए बोले, “जैसे मैंने पनामा वालों को नहीं छोड़ा, वैसे ही इन पेपर वालों को भी नहीं छोड़ूँगा! मेरा फंडा मालूम है ना- ना मैं खाऊँगा और ना खाने दूँगा!” -यह कहकर वो अगला भाषण देने निकल गये।



ऐसी अन्य ख़बरें