Monday, 20th November, 2017

चलते चलते

योग दिवस पर पीएम मोदी की किसानों से भावुक अपील- "आज के दिन सुसाइड ना करें, बाद में जा चाहें करें"

21, Jun 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ की पूर्व संध्या पर देश के किसानों से भावुक अपील की है। इस अपील में किसानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि “मेरे किसान भाईयो! आज योग की वजह से दुनिया में भारत का नाम रोशन हो रहा है! लेकिन आप लोगों की सुसाइडों से उस पे काला धब्बा लग रहा है। आज ‘इंटरनेशनल योगा डे’ है और आज पूरी दुनिया हमारी ओर देख रही है। इसलिये प्लीज़…आज के दिन सुसाइड करके इस पावन पर्व को अपवित्र मत करो!”

Modi- Yoga
आँख मूँदकर योग करते प्रधानमंत्री मोदी

“मैं मानता हूँ कि अपनी फ़सल का सही दाम ना मिलने पर टेंशन होती है। खाद-पानी ना मिलने पर भी टेंशन होती है। लेकिन मुझे देखो! मैं भी तो कितनी टेंशन में रहता हूँ। कभी ममता दीदी तो कभी एनडीटीवी, कोई ना कोई टेंशन देता ही रहता है। लेकिन मैंने कभी सुसाइड किया क्या? मैं पूछता हूँ…किया क्या? नहीं किया ना! क्योंकि मैं योगा करता हूँ। योगा से सारी टेंशन दूर हो जाती है। ये मेरा अपना एक्सपीरिएंस है। आप भी एक बार करके देखो, आपको अद्भुत शाँति का अनुभव होगा।” -उन्होंने गहरी साँस लेते हुए कहा।

“बहनों-भाईयों, योग से हमारी बॉडी में कई तरह के केमिकल रिएक्शन होते हैं और ये हमारे दिमाग़ को बर्फ़ की तरह ठंडा कर देता है। ख़ास तौर से ‘पवनमुक्तासन’! हमारे पेट में जो गैस बनती है, यही सारी समस्याओं की जड़ है। अगर आपके पेट की पवन…मेरा मतलब गैस बाहर निकल जाये तो मुझे पूरा विश्वास है कि आप कभी सुसाइड नहीं करेंगे। इसलिये आज योगा डे पर अपनी पवन को मुक्त कर दें और ख़ुशहाल ज़िंदगी जीयें!” -यह कहकर मोदी जी ने अपना संबोधन समाप्त किया।

उधर, जो विपक्ष कल तक इस बात को मुद्दा बना रहा था कि प्रधानमंत्री ने किसानों की ख़ुदकुशी पर मुँह नहीं खोला, इस अपील के बाद उस विपक्ष की भी बोलती बंद हो गयी। उनकी इस अपील का देश के कोने-कोने में असर होता दिखाई दे रहा है। महाराष्ट्र से लेकर एमपी तक किसान अपनी रस्सी फेंककर रेडियो पर पीएम की अपील को सुनते देखे गये।



ऐसी अन्य ख़बरें