Sunday, 25th June, 2017
चलते चलते

ATM गये बेटे को पापा ने लगाया फोन, कहा- "वहीं खड़े रहो बेटा! मोदी फिर कुछ बोलने वाला है"

30, Dec 2016 By Ritesh Sinha

भोपाल. प्रेम नगर में रहने वाला प्रशांत खुराना सुबह-सुबह ATM से पैसे निकालने गया हुआ था। दो घंटे में जैसे-तैसे उसका नंबर आया। वो 2000 का नोट लेकर जैसे ही एटीएम से निकलने लगा, उसी समय उसके पापा का फोन आ गया। उसके पापा ने कहा- “ATM का लाइन अभी मत छोड़ना बेटा! ये मोदी कल फिर से कुछ बोलने वाला है। तब तक तू ATM की लाइन को कसके पकड़के खड़ा रह। क्या पता वो क्या बोल दे, कौन सा नया नियम बना दे। अगर तू हट गया तो दोबारा लाइन में लगना मुश्किल हो जायेगा बेटा! खाने-पीने की चिंता तू मत कर! हम तब तक तेरे लिए टिफिन पहुंचाते रहेंगे। बस तू लाइन में खड़ा रह!” -यह कहकर प्रशांत के पापा ने फोन रख दिया।

atm line1
फिर से लाइन में लगने की तैयारी करता प्रशांत (लाल घेरे में)

पापा का आदेश मिलते ही प्रशांत फिर से लाइन में लग गया। थोड़ी देर बाद उसने देखा कि उसके आलावा और भी कई लोग ATM से पैसा निकाल लेने के बावजूद वहां से नहीं हिल रहे हैं। देखते ही देखते ATM में भीड़ फिर से बढ़ गई। जिसे देखो वो ATM की ओर आ रहा था, वहां से जा कोई नहीं रहा था। प्रशांत के आगे खड़े शख्स ने बताया कि- “अब मैं 31 दिसंबर की रात तक यहाँ से हिलूंगा भी नहीं। पिछली बार दस दिन बाद पैसे निकालने का नंबर आया था। इस बार मोदी ने अगर फिर से कोई नया नोट चालू कर दिया तो सबसे पहले उसका फोटो मैं ट्वीट करूँगा।”

“अगर मोदी जी सिर्फ हैप्पी न्यू ईयर कहने के लिए देश को संबोधित कर रहे हैं, तो ये बहुत गलत बात है। उनके हैप्पी न्यू ईयर के चक्कर में किसी की जान भी जा सकती है भाईसाब!” -प्रशांत के पीछे खड़े अधेड़ व्यक्ति ने खैनी मुंह में दबाते हुए कहा।

इस बीच कुछ न्यूज़ चैनलों ने दावा किया है कि 31 दिसंबर को मोदी बेवड़ा समुदाय को जमकर कोसने वाले हैं, जो उस रात सड़क किनारे बेसुध पड़े रहते हैं। वहीं, कुछ लोगों की मांग है कि मोदीजी को इस बार व्हॉट्सएप पर एक ही मैसेज को बार-बार भेजने वालों को भी कड़ा संदेश देना चाहिए।



ऐसी अन्य ख़बरें