Wednesday, 25th April, 2018

चलते चलते

सुरक्षाकर्मियों को संस्कृत श्लोक से सम्मोहित कर देश से भागा था नीरव मोदी

25, Feb 2018 By shaukin lekhak

नयी दिल्ली. पिछले कुछ दिनों से फुकरे लोग व्हॉट्सप्प पर नीरव के नाम का संस्कृत श्लोक ‘त्वं जो उखाड़तम् वो उखाड़ लेहिम्, अहं गच्छामी, मुद्रा वापसी कदापि न अपेक्षामी’ शेयर कर रहे हैं। कहने को तो ये एक जोक है, लेकिन फ़ेकिंग न्यूज़ को ख़ुफ़िया जानकारी मिली है कि यह श्लोक एक वास्तविक घटना है!

Nirav Modi1
हीरा दिखाकर सम्मोहित करता नीरव मोदी

जब 20 फरवरी को नीरव मोदी देश छोड़कर भागा था, उसी दिन रिटायर हुए एयरपोर्ट के एक सुरक्षाकर्मी ने हमारी टीम से संपर्क साधा और नीरव के संबंध में ख़ुफ़िया जानकारियाँ साझा कीं। उन्होंने बताया कि जब नीरव देश छोड़कर जाने की फ़िराक में था, तभी एयरपोर्ट पर सुरक्षाकर्मियों को उस पर शक हो गया था। वे जब उसे पूछताछ के लिए साइड में ले गए तो उसने बताया कि वो एक जाना-माना ‘ज्योतिषी’ है और ‘माणिक और रत्नों का व्यवसाय’ भी करता है। जब उससे पूछा गया कि वो कहाँ और क्यों जा रहा है, तो उसने बताया कि वो अमेरिका में एक सम्मलेन में भाग लेने जा रहा है।

सुरक्षाकर्मियों का शक तब और गहरा गया, जब उससे सम्मलेन के बारे में ऊल-जलूल जवाब देने शुरू कर दिए। उसने कहा कि वो सम्मलेन संस्कृत में है। सम्मलेन का टाइटल पूछे जाने पर उसने वही श्लोकत्वं जो उखाड़तम् वो उखाड़ लेहिम्। अहं गच्छामी, मुद्रा वापसी कदापि न अपेक्षामी’ पढ़ दिया।  यह श्लोक सुनते ही हम सब लोग सन्नाटे में चले गए। पता नहीं, हमें क्या हो गया! हम सब उसकी आँखों में डूबते चले गए और धीरे-धीरे हमें यकीन हो गया कि वो पहुंचा हुआ ज्योतिषी है, क्योंकि आज कल संस्कृत की जानकारी सूट-बूट धारी लोगों को कहाँ होती है!

हमारे कमांडर साहेब तो वहीं उससे अपने तरक़्क़ी और ट्रांसफर के बारे में पूंछने लगे। मेरे बारे में भी उसने कहा कि जल्द ही तुम्हें बहुत सारा धन मिलने वाला है। पता नहीं उसे कैसे पता चला कि मेरा रिटायरमेंट होने वाला है। उसने तो यहाँ तक कहा कि वो काला जादू भी जानता है। उसके बाद हम में से किसी को याद नही कि उसे गेट तक कौन छोड़कर आया था। हम सबकी आंखों पर ना जाने कैसा परदा पड़ गया था, किसी को कुछ दिखा ही नहीं! हम लोग तो उसे तब तक ज्योतिषी ही मानते रहे, जब तक टीवी पे उसके घोटाले की न्यूज़ नहीं देखी।

सुरक्षाकर्मी के इस खुलासे से नीरव की इस छुपी हुई घातक कला के बारे में पता चल गया है। हमने देशहित में यह ख़बर राष्ट्रीय जाँच एजेंसी को बता दी है। हमारी खबर का संज्ञान लेते हुए एजेंसी ने अपनी ‘काला जादू और ज्योतिष विंग’ के आला अधिकारियों को गुमराह आगाह कर दिया है कि वे अपने कान खड़े रखें।   ख़ुफ़िया विभाग ने इंटरपोल के जरिये यह सूचना भी जारी करा दी है कि जब भी नीरव मोदी पकड़ा जाये, तब कोई भी सुरक्षाकर्मी या जांच अधिकारी उसकी आँखों में देखकर बात ना करे, जब भी बात करे उसकी तरफ़ पीठ कर के ही बात करे!



ऐसी अन्य ख़बरें