Thursday, 18th January, 2018

चलते चलते

मुंबई में AC लोकल का चलते ही विरोध, गेट पर लटकने की व्यवस्था ना होने से भड़के लोग

25, Dec 2017 By बगुला भगत

मुंबई. आज मुंबई में AC लोकल का श्रीगणेश हुआ और होते ही मुंबईकर्स ने उसका विरोध भी चालू कर दिया। आप हैरान हो रहे होंगे कि AC लोकल जैसी अच्छी चीज़ का लोग विरोध क्यों कर रहे हैं? असल में, लोगों के इस विरोध की वजह है- AC लोकल के दरवाज़े बंद होना! जी हाँ! लोगों का कहना है कि “लोकल के दरवाज़े बंद होने से मुंबई की संस्कृति का अपमान हुआ है, जिसे हम बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे!”

Mumbai AC Local
चर्चगेट पर ट्रेन को घेरकर खड़े लोग

हुआ यूँ कि आज क्रिसमस के मौक़े पर जब यह AC लोकल अंधेरी से चर्चगेट के लिये चली तो मेट्रो की तरह इसके भी दरवाज़े बंद हो गये। जिसकी वजह से वे सारे लोग प्लेटफ़ॉर्म पर ही रह गये, जिन्हें दरवाज़े पर लटकने की आदत है या जो दौड़कर ट्रेन पकड़ते हैं।

बस, यह देखते ही लोग भड़क उठे और ट्रेन को घेर कर खड़े हो गये और ‘एसी लोकल हाय-हाय’ और ‘एसी लोकल की ऐसी-तैसी’ जैसे नारे लगाने लगे। मजबूर होकर ड्राइवर को लोकल AC बंद करके और दरवाज़े खोलकर चलानी पड़ी। इस तरह यह दुनिया की पहली AC ट्रेन बन गयी, जो खुले दरवाज़ों के साथ चली।

अंधेरी से चलने वाले एक डेली पैसेंजर ने गेट पर लटके फ़ेकिंग न्यूज़ संवाददाता को बताया कि “दरवाज़े बंद देखकर मेरा तो दिल ही बैठ गया। ऐसा कैसे चलेगा! अपनी आधी पब्लिक तो गेट पे ही लटकती है, फिर वो कहाँ जायेगी?”

इस बारे में पश्चिम रेलवे के डिविजनल मैनेजर मुकुंद जैन का कहना है कि “एसी ट्रेन में दरवाज़े तो बंद करने ही पड़ेंगे, नहीं तो उसके एसी होने का फ़ायदा ही क्या!” इस पर प्रदर्शनकारियों का कहना है कि “ये हम कुछ नहीं जानते। आप कैसे भी करके दरवज्जे खोलो बस! नहीं तो ट्रेन बंद करो!”



ऐसी अन्य ख़बरें