Thursday, 25th May, 2017
चलते चलते

'बिजली का बिल चुकाना भी पड़ता है' -यह जानकर चौंक पड़े मुलायम सिंह यादव

23, Apr 2017 By Ritesh Sinha

इटावा. उत्तर प्रदेश के बिजली विभाग ने मुलायम सिंह यादव के इटावा वाले बंगले में छापा मारकर उन्हें चार लाख रूपए का बकाया बिल थमा दिया है। बिल को देखकर मुलायम चौंक गये और कई घंटों तक उसे आंख फाड़कर देखते रहे। उन्हें यकीन नहीं हो रहा था कि टीवी, एसी, एलीवेटर, पंखा, कूलर वगैरह चलाने पर हर महीने ‘बिजली का बिल’ आता है, जिसे चुकाना भी पड़ता है।

Mulayam-Akhilesh
“ये बिजली का बिल का होत है टीपू?”

“हैं! ये क्या चीज़ है? इससे हमारे परिवार को क्या फायदा होगा?” मुलायम ने अपनी भाषा में कहा। तो वहीं पर खड़े एक शख्स ने जवाब दिया कि “नेताजी! ये फायदे की चीज़ नहीं है, इसे बिजली का बिल कहते हैं। इसमें जितना रुपया लिखा रहता है, उसे बिजली विभाग में जमा कराना पड़ता है, वरना कनेक्शन काट देते हैं।” यह सुनकर मुलायम जी ने लापरवाही से अपनी भाषा में फिर कहा -“बकवास है ये जोजना! ऐसा थोड़ी होता है! बिजली विभाग से पैसा लिया जाता है, उसे दिया नहीं जाता। ये तो उलटी गंगा बहा रहा है योगी।”

तब तक अखिलेश और शिवपाल भी वहां आ गए। थोड़ी देर तक कुछ सोचने के बाद मुलायम, अखिलेश से बोले- “ये पूरा पैसा तुम ही चुकाओगे, तुम ही सबसे ज्यादा टीवी देखते थे, हम तो देखते ही नहीं। स्वीमिंग पूल में भी तुम ही नहाते थे।” इतना सुनते ही अखिलेश भड़क गए और बोले “देखिए नेताजी! मैं टीवी-वीवी नहीं देखता। हाँ, एक बार जब ‘यादवों की बारात’ पिक्चर आ रही थी, तब मैंने थोड़ा सा देखा था। बस!” “तो फिर इसे शिवपाल चुकाएगा!” -उन्होंने शिवपाल की ओर देखते हुए कहा। शिवपाल भी भड़क गए और नाक फुलाकर बोले “मैं क्यों चुकाऊंगा? वैसे भी, मैं कभी टीवी नहीं देखता। हाँ, बहुत पहले ‘नमक हराम’ देखी थी, उसके बाद से मैंने आपके रिमोट को छुआ तक नहीं!”

इस तरह घर में फिर से महाभारत शुरू हो गई। “आपके लिए ही तो घर में एलीवेटर लगवाया था, अब आप ही चुकाओ पैसा!” शिवपाल ने नेताजी से कहा। तो अखिलेश ने जवाबी कार्रवाई करते हुए कहा कि “आप भी तो जब हमारे घर आते थे, तो मोबाइल चार्ज करते थे, उसका पैसा कौन चुकाएगा?” इस तरह उन दोनों के बीच आधे घंटे तक तू तू-मैं मैं होती रही। इस बीच झगड़ा बढ़ता देख मुलायम ने चिल्लाते हुए कहा, “अरे चुप हो जाओ! हम गठबंधन करेंगे। बिजली का बिल चुकाने के लिए देश में पहली बार होगा गठबंधन। राहुल गाँधी और मायावती से हाथ मिलाएंगे और साथ मिलकर बिजली का बिल चुकाएंगे! जाओ राहुल से बात करो।” -कहकर वे उठकर चले गए।



ऐसी अन्य ख़बरें