Monday, 26th June, 2017
चलते चलते

समय से दो दिन पहले भारत पहुंचा मानसून, पुलिस वालों ने काट दिया चालान

31, May 2017 By Ritesh Sinha

केरल. हमेशा चालान काटने की फिराक में रहने वाले कुछ पुलिस वालों ने कल मानसून का ही चालान काट दिया। मानसून पर आरोप है कि ये भारत में समय से दो दिन पहले ही घुस गया, जो नियमों के खिलाफ है। इस तरह जल्दबाजी दिखाना उसे महंगा पड़ गया और ड्यूटी पर तैनात पुलिस वाले ने 500 रु. का चालान मानसून को पकड़ा दिया। ड्यूटी पर तैनात इस जवान को केरल पुलिस ने इमानदारी से ड्यूटी करने के बदले मैडल देने की घोषणा भी कर दी है।

मिस बर्फीली भी इस बात का अनुमान नहीं लगा पाई
मिस बर्फीली भी इस बात का अनुमान नहीं लगा पाई

चालान काटने वाले पुलिस के जवान श्रीजीथ ने जो बताया, उसका हिंदी अनुवाद इस प्रकार है कि “मैं इधर समुद्र किनारे टहल रहा था..मेरा मतलब है ड्यूटी कर रहा था। तभी मैंने देखा कि जोर-जोर से हवा चलने लगी, और लोग भागने लगे। मैंने अपनी पिस्तौल निकाल ली। थोड़ी देर रूककर देखा तो आसमान से पानी टपकने लगा। मैं समझ गया कि मानसून इधर आ गया है, और मैं रिलैक्स हो गया।”

“तभी मेरा माथा ठनका, अरे.. ये तो 1 जून को आने वाला था, फिर दो दिन पहले कैसे आ गया? ऐसा थोड़ी होता है। जिस तारीख को आपको केरल आना है, उसी दिन आओ ना! ये दो दिन पहले चेक-इन करने की क्या जरूरत है? धर्मशाला समझ रखा है क्या? मुझे बहुत गुस्सा आया, मैंने तुरंत पेन निकाला और मानसून, पिता बंगाल की खाड़ी, के नाम से चालान ठोंक दिया। पहले तो वो पैसा देने से इंकार कर रहा था, लेकिन जब मैं जोर से गरजा तो उसने पैसे पकड़ा दिए।” साथ ही श्रीजीथ ने उन ख़बरों का खंडन किया है, जिसमे कहा गया था कि उसने चालान के पैसों को नाश्ता-पानी में उड़ा दिया है। उसने कहा- “ये बिल्कुल झूठ है! मैं घूस नहीं लेता, खासकर 500 रुपये तो बिल्कुल नहीं।”

उधर, मौसम विभाग ने इस घटना पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है। लेकिन गर्मी से परेशान देश वासी उस पुलिस वाले से खासे नाराज हैं। दिल्ली के रहने वाले यशकुमार ने बताया कि “कम से कम मानसून को तो बख्स दो यार! यहाँ गर्मी में बॉडी की वाट लग गई है, और आपको रिश्वत सूझ रही है।”



ऐसी अन्य ख़बरें