Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

बिना पटाखों के दिवाली में नहीं आ रहा मज़ा, सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो देख रहे हैं मोदी

19, Oct 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिससे दिल्ली के लोग बेहद निराश हैं, क्योंकि उन्हें खुलकर पटाखे चलाने का मौका नहीं मिल पा रहा है। अब दिल्ली की जनता के पास फुग्गा फुलाके जोर से फोड़ने के अलावा कोई चारा नहीं बचा है, या फिर फ्रूटी के टेट्रापैक को फुलाकर टायर के नीचे रखकर भी आवज निकाला जा सकता है।

surgical strikeउधर, प्रधानमंत्री कार्यालय भी सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश से अछूता नहीं है। खुद मोदी जी को बिना पटाखों के दिवाली का मज़ा ही नहीं आ रहा। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने इस पटाखों की कमी को पूरा करने का जुगाड़ कर लिया है, उन्होंने अपने दराज से उस सीडी को निकाल लिया है, जो सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान रिकॉर्ड की गई थी। वे खुद सुबह से रिमोट पकड़कर बैठ गए हैं, और इस विडियो को “लूप” में डालकर फुल साउंड में चला रहे हैं।

PMO के एक बड़े अधिकारी ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि, “पहले तो प्रधानमंत्री जी दिवाली मनाने सियाचिन  निकल जाते थे, इस साल कोई प्लान नहीं है, इसी बीच पटाखों पर बैन लग गया। सूना-सूना सा लग रहा पूरा इलाका। ऐसे में प्रधानमंत्री जी ने ही आईडिया दिया कि क्यों ना उस सीडी को चलाया जाए जो सर्जिकल स्ट्राइक के समय रिकॉर्ड की गई थी।”

“सुनने में आया है कि नया साउंड सिस्टम खरीदा गया है..?” -ऐसा पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि, “हाँ, ये बात सच है कि आज सुबह हमने प्रधानमंत्री के ऑफिस में चार बड़े-बड़े म्यूजिक बॉक्स इनस्टॉल किए हैं! हमें जरा भी अंदाजा नहीं था कि सर्जिकल स्ट्राइक का विडियो इस काम में भी आएगा। सुप्रीम कोर्ट ने नकली बमों, राकेट, और गोली बम पर बैन लगाया है, लेकिन वहां तो असली गोली और बम चल रहे हैं! मैंने भी थोड़ा सा झांककर देखा, बहुत मज़ा आया!” -कहते हुए उनका चेहरा खिल उठा।

सूचना मिली है कि दोपहर के बाद मोदी सरकार के सभी मंत्रियों को भी आतिशबाजी देखने के लिए आमंत्रित किया गया है। ताकि वे भी पटाखों की बिक्री पर लगे प्रतिबंध का गम भुला सकें। हालाँकि, इस बात में कोई शक नहीं कि रिमोट सिर्फ मोदी जी के पास रहेगी, कोई उसे हाथ भी नहीं लगा सकता।



ऐसी अन्य ख़बरें