Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

"कंडक्टर के बाद धोबी और धोबी के बाद उस लड़के को भी पकड़ने वाली थी हमारी पुलिस" -खट्टर

09, Nov 2017 By बगुला भगत

चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खड्डा खट्टर ने प्रद्युम्न मर्डर केस में अपनी पुलिस की जांच की तारीफ़ों के पुल बांध दिये हैं। खट्टर साब ने कहा है कि “हमारी पुलिस की लगन, मेहनत और सूझ-बूझ की वजह से ही आज वो लड़का पकड़ा गया है।” यह कहकर उन्होंने बराबर में बैठे डीजीपी संधू की ज़ोर से पीठ थपथपा दी।

manoharlal-khattar2
पुलिस जांच की दिशा बताते सीएम और मंत्री

“लेकिन आपकी पुलिस ने तो बेचारे कंडक्टर को पकड़ लिया था” एक रिपोर्टर के इस सवाल पर सीएम साब हँसते हुए बोले- “यही तो हमारी पुलिस की चाल थी, जिसमें सब फँस गये!” “चाल?” -रिपोर्टर ने हैरानी से पूछा। “जी हाँ, चाल!” -उन्होंने संधू की ओर मुस्कुराते हुए कहा।

“हमारी पुलिस ने जानबूझकर ऐसी बकवास जांच करने का नाटक किया। जिससे हर किसी को शक हो गया कि चाहे कोई भी हो लेकिन ये कंडक्टर तो हत्यारा हो नहीं सकता!”

“इन सीबीआई वालों को भी हमारी पुलिस की घटिया जांच की वजह से ही इस लड़के पे शक हुआ।” -खट्टर साब ने फिर से संधू की पीठ थपथपाते हुए कहा। “लेकिन आपकी पुलिस लड़के को पहले भी तो पकड़ सकती थी, उसने ऐसा क्यों नहीं किया?” -रिपोर्टर ने सर खुजाते हुए पूछा।

“बेटा, तुमने शायद वो कहावत नहीं सुनी कि दुर्घटना से देर भली! हड़बड़ी में गड़बड़ी हो सकती है! इसलिये हमारी पुलिस फूँक-फूँक कर क़दम रख रही थी!” -उन्होंने रिपोर्टर को हाथ से बैठने का इशारा करते हुए कहा।

“तो आपकी पुलिस अभी और क्या करने वाली थी?” इस पर खट्टर साब उंगलियों पर गिनते हुए बोले- “अभी तो वो धोबी को, उसके बाद माली को, उसके बाद रसोइये को और फिर उसके बाद एक गार्ड को और लास्ट में इस लड़के को भी पकड़ने वाली थी। लेकिन क्या करें! इन सीबीआई वालों ने टाइम ही नहीं दिया!”

यह कहकर सीएम साब कुर्ता झाड़ते हुए उठ खड़े हुए और एक अत्याधुनिक गौशाला का उद्घाटन करने रोहतक रवाना हो गये। डीजीपी संधू भी उनका बैग उठाकर उनके पीछे-पीछे दौड़ पड़े।



ऐसी अन्य ख़बरें