Monday, 1st May, 2017
चलते चलते

तमंचे की नोक पर मोबाइल बेचते धरे गये माइक्रोमैक्स के कर्मचारी

10, Mar 2017 By बगुला भगत

नोएडा. जानी-मानी स्मार्टफ़ोन निर्माता कंपनी माइक्रोमैक्स पर तमंचे की नोक पर मोबाइल बेचने का सनसनीख़ेज़ आरोप लगा है। नोएडा के सेक्टर-18 में रहने वाले एक युवक ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि माइक्रोमैक्स के दो कर्मचारियों ने उसे देसी कट्टा दिखाकर मोबाइल बेचा है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को दिल्ली बॉर्डर पर पकड़ लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है।

micromax
लोगों को धमकी देता माइक्रोमैक्स का बंदा

पीड़ित युवक धनंजय (बदला हुआ नाम) ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि “मैं कल विमेन्स डे पे अपनी गर्लफ्रेंड को गोल-गप्पे खिलाने अट्टा मार्केट जा रहा था। जैसे ही मैं फ़िल्म सिटी से TGIP की तरफ़ मुड़ा तो दो नकाबपोश लोगों ने मेरी स्कूटी के सामने बाइक लगाकर मुझे रोक लिया। इससे पहले कि मैं कुछ समझ पाता, एक ने मुझ पे देसी कट्टा तान दिया और दूसरे ने मेरे मुंह पे उसी तरह का मुक्का मारा, जैसा माइक्रोमैक्स का लोगो है।”

“कट्टा देखते ही मैंने तुरंत अपना पर्स निकाल के उन्हें पकड़ा दिया। लेकिन ये क्या! मेरा पर्स लेने के बजाय वो तो मुझे एक मोबाइल निकालकर दिखाने लगा और दूसरा मुझे उसके फ़ीचर्स समझाने लगा। कैमरा कितने मेगापिक्सल का, मेमोरी कितनी है वगैरह-वगैरह। मैंने कहा भाई, मेरे पास ऑलरेडी दो-दो फ़ोन हैं। तो वो बोला दो महीने से हमारा एक भी फ़ोन नहीं बिका है। चुपचाप ले ले नहीं तो गोली मार देंगे!” -कहते कहते धनंजय का गला सूख गया।

एक गिलास पानी पीकर वो बोला- “मैंने कहा इस टाइम तो मेरे पास इत्ते पैसे नहीं हैं। तो वे मुझे पास के एटीएम में ले गये। मुझसे पैसे निकलवाये, उनमें से 6,699 लिये और बाक़ी के मुझे लौटा दिये। फिर मेरे हाथ में फ़ोन का डब्बा थमाया और ‘हैव अ नाइस डे’ बोलकर निकल गये।”

“उन्होंने बाक़ायदा मुझे रसीद भी काटकर दी। ये देखो!” -धनंजय ने पर्स से रसीद निकालकर दिखाते हुए कहा।

धनंजय ने हमें यह भी बताया कि उन नकाबपोशों में से एक की शक्ल उसने देख ली थी। उसकी शक्ल उस अंग्रेज़ से मिल रही थी, जिसने कुछ दिन पहले हज़ारों लोगों के मोबाइल रोड रोलर चलाकर कुचल दिये थे। ताकि लोग माइक्रोमैक्स का मोबाइल खरीदने पर मजबूर हो जायें। उस केस में भी नोएडा पुलिस को उसकी तलाश है।



ऐसी अन्य ख़बरें