Friday, 18th August, 2017

चलते चलते

एक किलो टमाटर खरीद रहे व्यक्ति का दिन-दहाड़े अपहरण, अपहर्ताओं ने एक करोड़ की फिरौती मांगी

21, Jun 2016 By बगुला भगत

मुंबई. बोरीवली इलाक़े में कल एक व्यक्ति का दिन-दहाड़े अपहरण कर लिया गया। दिल दहलाने वाली यह घटना तब हुई, जब मिलिंद नाम का यह व्यक्ति रेलवे स्टेशन के बाजू वाले मार्केट में सब्ज़ी ख़रीद रहा था। अपहरण करने के बाद बदमाश तमंचे लहराते हुए फ़रार हो गये।

tomato
टमाटर खरीदने के लिये पैसे गिनता मिलिंद

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, वो आदमी (मिलिंद) बाक़ी सारी सब्ज़ी खरीदने के बाद टमाटर वाले ठेले पर पहुंचा था। पहुंचते ही उसने टमाटर का भाव पूछा। ठेलेवाले ने कहा- “सौ रुपय्या!” तो वो बोला- “ठीक है, एक किलो कर दो।” ‘एक किलो’ सुनते ही आस-पास के लोग आंखें फाड़-फाड़कर देखने लगे। वे हैरान थे कि इतनी सब्ज़ी खरीदने के बाद भी इस आदमी के पास एक किलो टमाटर खरीदने के पैसे हैं।

तभी उस ठेले के आस-पास कुछ संदिग्ध व्यक्ति मंडराने लगे। वे लोग वहीं से मिलिंद के पीछे हो लिये और तीन ठेले बाद उसे चाकू की नोंक पर अगवा कर लिया। अपहरणकर्ताओं ने मिलिंद को छोड़ने के बदले में एक करोड़ की फ़िरौती मांगी है। उन्होंने धमकी दी है कि “नहीं तो हम इसे टमाटरों के बदले किसी दूसरे गिरोह को बेच देंगे।”

“उन्हें आज ही सेलरी मिली थी इसलिये एक्साइटेड होकर भाजी मार्केट चले गये। हम कोई आसामी नहीं हैं।” -मिलिंद की पत्नी सोनाली ने रोते-रोते बताया।

सोनाली ने सुषमा स्वराज को ट्वीट कर अपने पति को छुड़ाने की मांग की, जिसके जवाब में सुषमा जी ने ट्वीट किया कि “अगर तुम्हारे पति विदेश में होते तो मैं कुछ कर भी कर सकती थी लेकिन यहां मेरे हाथ में कुछ नहीं है।” इसके बाद सोनाली ने सुरेश प्रभु को ट्वीट किया, उन्होंने भी हाथ खड़े करते हुए जवाब दिया कि “अगर अपहरण ट्रेन में या रेलवे प्लेटफ़ॉर्म पर हुआ होता तो मैं तुरंत एक्शन ले लेता।” अब सोनाली दूसरे मंत्रियों को ट्वीट कर रही है।

उधर, इस घटना के बाद देश भर के टमाटर विक्रेताओं में ख़ौफ़ पसर गया है। उन्होंने सरकार से सुरक्षा की मांग की है। कांदिवली में ठेला लगाने वाले बालकीराम का कहना है कि “अब इतने टमाटर लेकर चलना सेफ़ नहीं है। चार टमाटरों के लिये कोई भी हमारी जान ले सकता है।”



ऐसी अन्य ख़बरें