Wednesday, 25th April, 2018

चलते चलते

तीन साल का बच्चा नहीं खेल रहा था मोबाइल से, माँ-बाप हुए शर्मिंदा

21, Feb 2018 By banneditqueen

कानपुर. एक ज़माना था जब मेहमानों के आते ही माँ-बाप अपने छोटे बच्चों से कविता कहानी का पाठ कराते थे। पर अब ज़माना बदल चुका है अब लोग कविता पाठ नहीं बल्कि अपने बच्चों से फ़ोन में वीडियो चलवाते हैं। माँ-बाप आजकल इसी बात से खुश हैं कि हमारा बच्चा फ़ोन में यूट्यूब चला लेता है। पर इसके चलते कल कानपुर के रहने वाले एक दंपत्ति को शर्मिंदा होना पड़ा।

बच्चे और मोबाईल तो जैसे दिया बाती
बच्चे और मोबाईल तो जैसे दिया बाती

दरअसल, कल शैफाली और अतुल शर्मा अपने बेटे राघव के साथ राघव के एक दोस्त की बर्थडे पार्टी में गए थे। बर्थडे पार्टी में सभी बच्चों के माँ बाप बस यही बातें कर रहे थे कि उनके बच्चे मोबाइल में सभी ऐप्लिकेशंस चला लेते हैं, वीडियोज़ देख लेते हैं, सेल्फी ले लेते हैं। तभी शैफाली की नज़र अपने बेटे राघव पर पड़ी, शैफाली ने देखा कि राघव कलरिंग बुक लेकर उसमें कलर कर रहा है। तभी शैफाली ने अपना मोबाईल निकालकर राघव को थमा दिया, पर राघव ने मोबाइल साइड में रख दिया।

जब इस बात पर बाकी मेहमानो की नज़र पड़ी तो सभी अचम्भे में रह गए। शैफाली की सहेली विभा ने कहा, ”अरे शैफाली, राघव ठीक तो है ना? इसने मोबाइल पर खेलने से मना कैसे कर दिया? किसी साइकोलॉजिस्ट को दिखा नहीं तो बाद में बहुत दिक्कत हो जाएगी, शाम को ये बाहर खेलने तो नहीं जाता ना? ध्यान रख शेफाली नहीं तो आगे बहुत दिक्कत हो जाएगी। मैं तो पहली बार देख रही हूँ कि कोई बच्चा मोबाइल पे नहीं खेल रहा।” इतना सुनते ही राघव के माँ-बाप शर्मिंदा होकर पार्टी से घर आ गए।



ऐसी अन्य ख़बरें