Saturday, 18th November, 2017

चलते चलते

कांग्रेस का एलानः "यूपी में हमारी सरकार बनी तो मंडे को भी छुट्टी रहेगी", लोग जश्न में डूबे

09, Jan 2017 By बगुला भगत

लखनऊ. कांग्रेस ने यूपी के विधानसभा चुनावों के लिये आज ऐसा मास्टर-स्ट्रोक मार दिया, जिससे बाक़ी सभी पार्टियां बैकफुट पर चली गयी हैं। कांग्रेस ने एलान किया है कि “अगर यूपी में हमारी सरकार बनी तो लोगों को सोमवार को ऑफ़िस जाने की ज़रूरत नहीं होगी। जो लोग संडे की रात को भी पार्टी-शार्टी करते हैं, अब उन्हें टेंशन लेने की ज़रूरत नहीं है। सरकार बनते ही हम इस मंडे की छुट्टी कर देंगे।”

Monday8
मंडे की सुबह एक ऑफ़िस का ख़ौफ़नाक दृश्य

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने अपना चुनावी घोषणापत्र जारी करते हुए यह एलान किया। माना जा रहा है कि यह आइडिया कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी के दिमाग़ की उपज है, जो ख़ुद चार दिन काम करने के बाद एक महीने की लंबी छुट्टी पर चले जाते हैं। इसलिये वो छुट्टी की अहमियत जानते हैं।

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि अब यूपी में कांग्रेस की सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता क्योंकि नौकरीपेशा लोगों को जिस चीज़ से सबसे ज़्यादा नफ़रत है- वो है मंडे! मंडे की सुबह लगभग हर घर में मातम छाया रहता है। घर से बंदा ऑफ़िस के लिये ऐसे निकलता है, जैसे बकरा क़ुर्बानी के लिये जा रहा हो। लोग सुबह होते ही अपने बॉस से सौ तरह के झूठ बोलने लगते हैं। कांग्रेस की मेहरबानी से अब उन्हें इस गंदी आदत से भी निज़ात मिल जायेगी।

कांग्रेस के इस एलान के बाद नौकरीपेशा लोगों में ज़बरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है। लोग मिठाई खिलाकर एक-दूसरे का मुंह मीठा करा रहे हैं। नोएडा की एक प्राइवेट कंपनी में काम करने वाले संतोष मिश्रा का कहना है कि “मंडे तो होना ही नहीं चाहिये था भाईसाब! चलो कम से कम राहुल बाबा ने तो हमारी परेशानी समझी। मेरा वोट तो अब कांग्रेस को ही समझो!”

उधर, कांग्रेस की इस चाल से सारी पार्टियों में हड़कंप मच गया है। बीजेपी मंगलवार को छुट्टी देने पर विचार कर रही है तो बीएसपी दो क़दम आगे जाकर सोमवार, मंगलवार और बुधवार तीनों दिनों की छुट्टी देने का एलान करने वाली है। समाजवादी पार्टी के कर्ता-धर्ताओं को अपने नेताओं की पार्टी से छुट्टी करने से ही फ़ुर्सत नहीं है इसलिये फिलहाल उनका ध्यान इधर नहीं गया है। वहीं, आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह का कहना है कि “हमारी पार्टी तो यूपी में चुनाव ही नहीं लड़ रही, नहीं तो हम तो पूरे हफ़्ते की छुट्टी दे देते। काम करने की ज़रूरत ही क्या है!”



ऐसी अन्य ख़बरें