Saturday, 24th June, 2017
चलते चलते

ट्रंप और हिन्दू सेना के रिश्तों में दरार, समर्थन वापसी पर विचार कर रहे हैं विष्णु गुप्ता

02, Mar 2017 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और हिन्दू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता के संबंधों में खटास पड़ने की ख़बरें आ रही हैं। ट्रंप की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले विष्णु उनसे बुरी तरह नाराज़ बताये जा रहे हैं। इस नाराज़गी की वजह से वो 10 दिनों से ट्रंप के फ़ोन का भी जवाब नहीं दे रहे हैं।

Hindu Sena3
वो भी क्या दिन थे दोनों की दोस्ती के!

हिन्दू सेना के महासचिव-कम-उपाध्यक्ष-कम-कोषाध्यक्ष-कम-संगठन मंत्री मिन्टू मित्तल ने बताया कि “हमारे अध्यक्ष साब (विष्णु गुप्ता) की भोत बेज्जती हो रही है भाईसाब! उस ट्रंप से ऐसी उम्मीद नहीं थी हमें!”

“लेकिन विष्णु जी को तो ट्रंप से बड़ा प्यार था, फिर अचानक क्या हो गया?” यह सुनकर मिन्टू जी बोले-  “प्यार तो भोत था भाईसाब! इतना था कि बस पूछो मत! जब ट्रंप जीता था तो भाईसाब ख़ुद ढोल बजाकर नाचे थे। उससे पहले मई में उसकी जीत के लिये हवन किया था और फिर जून में उसका बड्डे भी मनाया। छह सौ का तो वो केक खा गया हमारा!”

“लेकिन ट्रंप ने कब केक खा लिया आपका? वो बड्डे पार्टी में आया था क्या?!” रिपोर्टर के इस सवाल पर मिन्टू जी ग़ुस्से में बोले- “उसके फोटू ने तो खाया था!”

मिन्टू के बराबर में चीनी की बोरी पे बैठे शैंकी सिंघल बीच में बोल पड़े- “देखो भाईसाब! प्यार तो इसलिये था कि ट्रंप का और भाईसाब का काम-वाम सब एक ही है ना! वो भी अमरीका में बिल्डिंग-विल्डिंग बनाता है और भाईसाब का भी प्रॉपर्टी डीलिंग का ऑफिस है।”

“लेकिन इस बार कोई बड्डे-वड्डे नहीं मना रहे भाईसाब! चाहे ट्रंप पर्सनली फ़ोन करके भी रिक्वेस्ट करे, तब भी नहीं!” -मिन्टू जी ने कांग्रेस का चुनाव चिन्ह लहराते हुए कहा। “लेकिन गड़बड़ क्या हुई, ये नहीं बताया आपने?” यह पूछने पर शैंकी ने कहा- “देखो जी, हम आपको साफ़ बतायें! हमें तो ज़्यादा कुछ पता-वता है नहीं। कल शाम विष्णु भैय्या बड़बड़ाते हुए कोई बैन-वैन की बात कह रहे थे।”

तभी सामने से विष्णु स्वयं आ गये और आते ही बोले- “मैं बताता हूं! दुनिया भर पे बैन लगा दिया उसने! पाकिस्तान वालों पे क्यूं नहीं लगाया? बैन लगाने से पहले कम से कम एक बार हमसे पूछ तो लेते कि किस पे लगाना है और किस पे नहीं!”

“बस, अब कुछ दिन और इंतज़ार करके देख रहे हैं हम! अगर उसने हमारा ये काम नहीं किया नहीं तो फिर समर्थन वापस! हम जिसे चढ़ा सकते हैं, उसे उतारना भी आता है हमें!” -विष्णु ने चेतावनी देते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें