Friday, 28th July, 2017
चलते चलते

2000 का छुट्टा ढूंढने गया युवक दो दिन बाद घर लौटा

24, Nov 2016 By बगुला भगत

मुंबई. नोटबंदी के बाद अभी पांच सौ और हज़ार रुपये के नये नोट नहीं आये हैं और कुछ एटीएम से सिर्फ़ 2000 के नोट ही निकल रहे हैं। मजबूरी में लोग इतने बड़े नोट को निकाल तो रहे हैं लेकिन उसके छुट्टे ढूंढने में उन्हें नाना-नानी दोनों याद आ रहे हैं। सब्ज़ीवाले से लेकर ऑटोवाले तक, कोई भी इतना बड़ा नोट लेने को तैयार नहीं है।

2000 Note
इसी नोट के छुट्टे ढूंढ रहा था उल्हास

उल्हास कोल्हापुरे नाम का युवक भी अपना 2000 का नोट खुलाने गया था, जो दो दिन बाद भी घर नहीं लौटा। जब उसका कहीं अता-पता नहीं चला तो उसके घरवाले गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने पुलिस स्टेशन पहुंचे। उल्हास के पापा महेश ने इंस्पेक्टर को बताया कि “साब, हमारा बेटा परसों 2000 रुपये के छुट्टे लेने गया था, जो अभी तक नहीं लौटा। हमें शक है कि इतनी बड़ी रकम देखकर किसी ने उसे अगवा कर लिया है।”

महेश अभी यह कह ही रहे थे कि तभी उनके पड़ोसी बाबूराव हांफते हुए आये और बोले कि “आपका बेटा लौट आया है!” यह सुनते ही सारे घरवालों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा और वे दौड़कर घर पहुंचे और उल्हास को सीने से लगा लिया। उसने बताया कि छुट्टा ढूंढते-ढूंढते वो पुणे पहुंच गया था।

“बेटा तू दो दिन से नहाया भी नहीं है। पहले नहा-धो ले, फिर आराम से बताना!” -उल्हास की माँ ने लाड़ से उसके सर पे हाथ फेरते हुए कहा। नहाने-धोने और खाने-पीने के बाद उल्हास ने बताया कि “मैंने अंधेरी की दुकानों से छुट्टा ढूंढना शुरु किया था और चलते-चलते दादर पहुंच गया। इसके बाद जब पैदल चलना मुश्किल हो गया तो मैंने ऑटो कर लिया।”

दो गिलास पानी पीकर वो आगे बोला- “ऑटो में चलते हुए भी कई घंटे हो गये लेकिन छुट्टे नहीं मिले। अचानक मेरी नज़र मीटर पे गयी। वो 1900 पे पहुंच गया था। मैंने सोचा कि ये 2000 तो ऑटो के भाड़े में ही चले जायेंगे। तभी ऑटो एक सिग्नल पे रुका और मैं उतर के भाग गया। फिर दोबारा पैदल ढूंढना शुरु कर दिया और चलता ही गया-चलता ही गया।”

यह कहकर उसने जेब से निकालकर 100-100 के 19 नोट दिखाये तो घरवालों की आंखों से ख़ुशी के आंसू बहने लगे। ये सब बताने के लिये वे रिश्तेदारों को फ़ोन करने लगे। “पाटील साब का लड़का 2000 के छुट्टे ले आया” -यह ख़बर पूरे मुहल्ले में आग की तरह फैल गयी। अब मुंबई के कोने-कोने से लोग उन छुट्टों को देखने आ रहे हैं। कुछ नौजवान तो उनके साथ सेल्फ़ी भी ले रहे हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें