Sunday, 25th February, 2018

चलते चलते

प्रेमिका के भाइयों से पिटे युवक ने घर पर बचने के लिए बोला झूठ, कहा- पद्मावत देखते समय हुई पिटाई

28, Jan 2018 By Guest Patrakar

गुरुग्राम. पद्मावत के विरोध के कारण डिस्ट्रिब्यूटर्स और प्रोड्यूसर-डायरेक्टर संजय लीला भंसाली को ख़ासा नुक़सान उठाना पड़ रहा है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें पद्मावत के विरोध से फ़ायदा हो रहा है। ऐसे ही एक भाईसाब हैं गुरुग्राम के रहने वाले राजू त्रिपाठी! राजू ने अपनी प्रेमिका के भाइयों से पिटने के बाद घर आकर पद्मावत का सहारा लेकर अपनी इज़्ज़त और जान दोनों बचा ली।

padmaavat-karni-sena-protest
अब राजू के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते करनी सेना वाले

वाकया कल शनिवार का है, जब प्यार में पागल राजू और उसकी प्रेमिका गीतांजलि एंबिएंस मॉल में डॉमिनोज़ के पिज़्ज़ा का लुत्फ़ उठा रहे थे। हमने पीड़ित राजू से बात की और मामले की पूरी जानकारी ली। राजू ने बताया, “मैं और गीतू (गीतांजलि का प्यार का नाम) रोज़ की तरह क्लास बंक करके पिज़्ज़ा खाने गए मगर तभी अचानक गीतू के पाँचों भाई वहाँ पहुँच गए और मुझे ऐसे पीटा जैसे मैंने पिछले चुनाव में खट्टर को वोट दिया हो। वो मुझे मारते जा रहे थे और मैं ये सोच के परेशान था कि अब घर पे क्या मुँह दिखाऊँगा। जब उन्होंने मुझे छोड़ा तो मैं फटाफट वहाँ से भाग कर अपने घर की और चल पड़ा। रास्ते के ही एक सुलभ शौचालय के आइने में जब मैंने अपना चेहरा देखा तो ख़ुद पे तरस आ गया। मेरा मुँह फूटा हुआ था और आँख पर नील पड़ गया था। कपड़े फट गए थे और बालों में धूल थी। ऐसे में अगर मैं घर जाता तो माँ और मारती। इसीलिए मैंने घर ना जाने का फ़ैसला लिया। लेकिन तभी मैंने पास की ही पनवाड़ी की दुकान के टीवी पे देखा कि कैसे करनी सेना पूरे गुड़गाँव में आग लगा रही है। बस मैंने बहाना सोच लिया! मैं घर गया और चौड़े में बोल दिया कि मैं पद्मावत देखने गया था, वहाँ करनी सेना वालों ने मेरा ये हाल कर दिया। घरवाले मान गए और मेरी मरहम पट्टी करवाने डॉक्टर के पास ले गए।”

राजू की प्रेमिका गीतांजलि ने भी इस बात की पुष्टि की। उसने बताया, “हाँ, ये सच है कि राजू को मेरे भाइयों ने ही मारा था। मैं कुछ बोलती तो शायद वो मेरा भी यही हाल करते इसलिए मैंने चुपचाप पिज़्ज़ा ख़त्म करने पे ध्यान दिया। वो तो भला हो करनी सेना और पद्मावत का जो राजू घरवालों की मार से बच गया।”

पद्मावत की वजह से केवल राजू और गीतू को ही नहीं बल्कि ऐसे कई निकम्मे सेल्ज़ और मार्केटिंग वालों को भी फ़ायदा हुआ है, जो पद्मावत और करनी सेना का बहाना मार के घर पे लेटे मैच देख रहे हैं या दोस्तों के साथ पार्टी मना रहे हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें