Tuesday, 16th January, 2018

चलते चलते

2G घोटाले का फ़ैसला सुनते ही युवक ने खोया आपा, मोबाइल से निकालकर फेंक दिया 2G सिम

21, Dec 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने 2G घोटाले की सुनवाई करते हुए इस मामले के सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। अदालत के इस फैसले से लोग काफ़ी गुस्से में नज़र आ रहे हैं। करोल बाग़ में रहने वाले प्रशांत परमार ने तो इस ख़बर को सुनकर अपना आपा ही खो दिया।

2G Sim
अपने 2जी सिम पर चिल्लाता प्रशांत

“ऐसा कैसे हो सकता है पैंचो? सब के सब मिले हुए हैं!”- यह प्रशांत का पहला वाक्य था। वो इतना गुस्से में था कि उसने अपने मोबाइल से 2G वाला सिम ही निकालकर फ़ेंक दिया। “साला! मैं अब इस सिम को हाथ भी नहीं लगाऊँगा! लानत है इस सिम पर!” -चार पांच गालियों का मिश्रण करते हुए वो चिल्लाया।

फ़ेकिंग न्यूज़ से बातचीत में प्रशांत ने बताया कि “अब मैं कभी भी ‘2G’ नेटवर्क इस्तेमाल नहीं करूँगा! सिर्फ 4G के सहारे ही अपनी पूरी जिंदगी काटूँगा! वैसे भी आवाज क्लियर नहीं आती इस 2G में! ना ठीक से नेट चलता है और ना ही वीडियो कॉल होती है! इसीलिए मैं इस सिम को फेंक कर अपना विरोध दर्ज करा रहा हूँ!”

“ये क्या बात हुई? 2G नेटवर्क छोड़कर तुमने कौन सा तीर मार लिया?” यह पूछे जाने पर प्रशांत भड़कते हुए बोला- “देखो! आजकल उल्टी-सीधी कसम खाने का फैशन चल रहा है! ..तो मैंने भी बहती गंगा में हाथ धो लिया! ज्योतिरादित्य सिंधिया को ही ले लो! कह रहा है कि शिवराज सिंह चौहान को हराए बिना मैं फूलों की माला नहीं पहनूंगा! इसकी थर्ड क्लास ‘प्रतिज्ञा’ के आगे तो मेरी वाली क़सम फिर भी अच्छी है!” -प्रशांत ने फिर से गालियों का मिश्रण करते हुए बताया।

लेकिन इस गुस्से से प्रशांत को फायदा भी हुआ है। दरअसल, जब वो गुस्से में था तो उसका चेहरा बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा से भी बड़ा हो गया था। इस तरह उसने अनजाने में ही सही, संबित के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें