Sunday, 22nd April, 2018

चलते चलते

देश के सभी चोर बाज़ारों के नाम बदलकर रखे जाएंगे 'फेसबुक बाज़ार', कैबिनेट ने दी मंजूरी

30, Mar 2018 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. डाटा लीक से परेशान मोदी सरकार ने फेसबुक को सबक सिखाने का प्लान बना लिया है। कैबिनेट ने देश की सभी चोर बाज़ारों का नाम बदलकर ‘फेसबुक बाज़ार’ रखने का निर्णय लिया है, ताकि फेसबुक को बदनाम किया जा सके।

कल हुई कैबिनेट की आपात बैठक में बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि “ये डाटा लीक वाला मामला तो फंसता ही जा रहा है! वैसे तो हमने नोटिस भेज दिया है लड़के को! लेकिन मुझे नहीं लगता कि आजकल हमारे नोटिस से कोई डरता है! इसलिए जल्द ही हमें कुछ करना पड़ेगा!”

कैबिनेट मीटिंग में नाम बदलने का निर्णय लेते हुए मोदीजी
कैबिनेट मीटिंग में नाम बदलने का निर्णय लेते हुए मोदीजी

फिर सामने पड़े कुछ कागजों को पलटते हुए बोले, “मेरे पास एक धाँसू आइडिया है! ये जो हर शहर में आजकल चोर बाज़ार बन गए हैं ना, हम उनका नाम बदलकर ‘फेसबुक बाज़ार’ रख देते हैं! सुनने वालों को भी अच्छा लगेगा!”

इतना सुनते ही मीटिंग में मौजूद सभी मंत्रीगण अपनी कुर्सियों से उछल पड़े। “वाह मोदी जी वाह! क्या आइडिया है! चोर बाज़ार का नाम तो फ़ेसबुक के नाम पे होना ही चाहिए! वैसे मैं तो अपना मोबाइल वहीँ से लेता हूँ, सस्ते में मिल जाते हैं!” -नितिन गडकरी ने समोसा दबाते हुए कहा।

चूँकि गडकरी इस मुद्दे को मज़ाक में ले रहे थे तो मोदी जी ने उनकी ओर घूरकर देखा और बोले, “तुम्हारे मुंबई वाले का नाम सबसे पहले बदलेंगे!” यह सुनकर गडकरी सहम गए और कुर्सी में और पीछे की ओर धँस गए। जेटली तो इस बात से खुश थे कि इस योजना में पैसा खर्च नहीं करना पड़ेगा!

बाद में इस डिसीजन को क्रांतिकारी बताते हुए संबित पात्रा ने बताया कि “देखिए! शहर के बीचों-बीच चोर बाज़ार बन गए हैं, ये अच्छा लगता है क्या? उन्हें भी सम्मान के साथ जीने हक़ है कि नहीं? इसलिए हमने उन सबका नाम बदलने का फैसला लिया है! वैसे भी, नाम बदलने का कोई मौका हम हाथ से जाने नहीं देते!” उधर, चोर बाज़ार के दुकानदार इस फ़ैसले से खासे उत्साहित हैं, उन्होंने एक सप्ताह तक हर सामान में 20% डिस्काउंट देने का एलान किया है।



ऐसी अन्य ख़बरें