Wednesday, 25th April, 2018

चलते चलते

हमने उन्हें भी भागने का पूरा मौका दिया था: कार्ति की गिरफ़्तारी पर केंद्र सरकार की सफाई

02, Mar 2018 By Ritesh Sinha

चेन्नई/नयी दिल्ली. पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को CBI ने चेन्नई एअरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया है। उन पर आरोप है कि आईएनएक्स मीडिया केस में उन्होंने अपने पिता के पद का दुरूपयोग किया था और कंपनी से साढ़े छः करोड़ की रिश्वत मांगी थी। इस बीच केंद्र सरकार पर आरोप लग रहा है कि उसने कार्ति को भागने का पूरा मौका नहीं दिया, जैसा माल्या, नीरव और ललित मोदी के मामले में किया गया था।

karti-chidambaram
मजबूरी में कार्ति को पकड़ कर ले जाती पुलिस

कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि “यह सरासर अन्याय है! मोदी जी ने बदले की भावना से काम करते हुए कार्ति जी को भागने का पूरा मौका नहीं दिया! जबकि इस योजना का लाभ पहले नीरव मोदी, विजय माल्या और ललित मोदी उठा चुके हैं, तो फिर कार्ति जी को इससे वंचित क्यों किया गया?”

“अगर उन्हें भी कुछ दिन और मिल जाते तो वो भी आज नीरव मोदी के साथ विदेश में बर्फबारी का आनंद ले रहे होते!” -सिंघवी ने मुट्ठी भींचते हुए कहा।

विवाद बढ़ता देख वित्त मंत्रालय और CBI ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस करके जवाब दिया कि “ये सरासर झूठ है! हमने उन्हें भागने का पूरा मौका दिया था! हम किसी के साथ भेदभाव नहीं करते! जब सभी आरोपी विदेश भाग रहे हैं तो क्या जरूरत थी उन्हें विदेश से इंडिया आने की! मजबूरी में हमें उन्हें आधे-अधूरे मन से गिरफ्तार करना पड़ा है!”

“और किसने कहा था उन्हें फ्लाइट की फोटो खींचकर सोशल मीडिया में डालने की! चुपचाप निकल जाते तो किसी को पता भी नहीं चलता!” -CBI के एक बड़े अफसर ने तर्क दिया।

उधर, बीजेपी भी अपनी सरकार के बचाव में उतर आयी है। पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने नाक फुलाते हुए कहा, “देखिए! ये सब नहीं चलेगा! कार्ति को भागने के लिए पर्याप्त समय दिया गया था! अगर वो मौके का फायदा नहीं उठा पाए तो इसमें सरकार की क्या गलती है?”



ऐसी अन्य ख़बरें