Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

सरकार का आदेश ''प्रदर्शन करने वाले लोग, रोहिंग्या विस्थापितों को अपने घर में जगह दें''

15, Sep 2017 By banneditqueen

एजेंसी. पकिस्तान और बांग्लादेश द्वारा हुए हिन्दुओं पर अत्याचार और कश्मीरियत द्वारा हुए कश्मीरी पंडितों पर अत्याचारों को भूलकर आगे बढ़ते हुए भारत के लोग रोहिंग्या मुसलामानों के लिए इंसानियत के  प्रदर्शन कर रहे हैं। म्यांमार में हिंसा झेल रहे रोहिंग्या मुसलमान अपना देश छोड़ दूसरे देशों में शरण मांग रहे हैं। जहाँ एक ओर सभी इस्लामिक देश ये चाहते हैं कि भारत उन्हें पनाह दे दे वो खुद रोहिंग्या मुसलामानों को पनाह नहीं देना चाहते।

सरकार का आदेश सुन घर जाते लोग
सरकार का आदेश सुन घर जाते लोग

कल देश के कई इलाकों में रोहिंग्या मुसलमानो के लिए प्रदर्शन किये गए, बहती गंगा में हाथ धोने असदुद्दीन ओवैसी जी भी देश की सरकार द्वारा ‘मुसलमानो को दबाया जा रहा है’ वाला टेपरिकॉर्डर सुना गए। इन सब से परेशान केंद्र सरकार ने आदेश दिया है कि ”जो लोग प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं, वो अपनी जेब से या तो रोहिंग्या विस्थापितों का खर्चा भरें या फिर उन्हें अपने घर में पनाह दें। देश में पहले से ही गैर कानूनी तरीके से लाखों बांग्लादेशी रह रहे हैं, सरकार रोहिंग्या का खर्चा नहीं उठा सकती।”

इस खबर के बाहर आते ही प्रदर्शनकारी तुरंत अपने अपने घर लौट गए, भारत में रह रहे एक रोहिंग्या परिवार जब प्रदर्शनकारियों के घर शरण मांगने पहुंचे तो उन्हें निराशा ही हाथ लगी। असद्दुद्दीन ओवैसी ने भी सरकार के इस आदेश के बाद कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया है



ऐसी अन्य ख़बरें