Wednesday, 28th June, 2017
चलते चलते

राहुल की सभा में खाट लूटने की योजना बनाते एक ही परिवार के 4 सदस्य धरे गये

16, Sep 2016 By बगुला भगत

चित्रकूट. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की खाट सभाओं में खाट लूटने वाले एक परिवार के चार सदस्यों को पुलिस ने आज तड़के गिरफ़्तार कर लिया। ये सभी राहुल की 18 सितंबर को झांसी में होने वाली सभा में लूट की योजना बना रहे थे। पुलिस ने इनके घर से कई नयी-पुरानी खाटें भी बरामद की हैं। कुछ खाटों को ये अपने पर्सनल यूज में ले रहे थे, जबकि बाक़ी को बेच चुके थे, जबकि कुछ खाटें इन्होंने अपनी रिश्तेदारियों में भेज दीं हैं।

Rahul Khat5
खाट को ठिकाने लगाने जाते टुनुवा

चित्रकूट के थाना प्रभारी ब्रजबिहारी यादव ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में चारों आरोपियों को पेश करते हुए बताया कि “इस परिवार के मुखिया का नाम लालमोहन है और बेटों का नाम डबुआ, बबुआ और टुनुवा है। ये लोग देवरिया से ही खाटें लूटने में लगे हुए हैं। ये एक दिन पहले ही सभा-स्थल की रेकी करके तय कर लेते हैं कि खाट को किस तरफ़ से पार करना है। डबुआ खाट को लेकर निकलने में एक्सपर्ट है। ये खाट को लेकर रफ़ूचक्कर हो जाता है और आगे कोने पर खड़े अपने भाई को पकड़ा देता है और वापस दूसरी खाट लेने आ जाता है। बबुआ खाट को आगे टुनुवा को पास कर देता है, जो उसे ठिकाने लगा देता है।”

ब्रिजबिहारी ये सब बता ही रहे थे कि लालमोहन बीच में बोल पड़ा- “ये सब झूठ है, हम कोई खाट-वाट नहीं लूटते। हमें हमारे पड़ोसियों ने फंसाया है।”

“अच्छा! अगर खाट लूटने नहीं जाते तो ये बताओ कि सभा में राहुल गांधी ने क्या कहा। बोलो!” ब्रजबिहारी ने लालमोहन का गमछा पकड़ते हुए कहा। इस पर वो गमछा छुड़ाते हुए बोला- “दरोगा साब, ये तो राहुल गांधी को ख़ुद भी नहीं पता होगा कि वो रैली में बोलते क्या हैं। हम गरीब आदमी कैसे बतायें!” लेकिन ब्रजबिहारी ने उनकी कोई बात नहीं सुनी और चारों को खाट समेत कोर्ट में पेशी के लिये लेकर चले गये।

उधर, इन गिरफ़्तारियों के बाद कांग्रेस ने यूपी सरकार से खाटों की सुरक्षा के लिये अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात करने की मांग की है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस मांग को मान लिया है और कहा है कि “सभी खाटों की ड्रोन से निगरानी की जायेगी और हर खाट पर सादी वर्दी में एक जवान बैठा रहेगा।” इस पर कांग्रेस ने एतराज़ जताया है। उसका कहना है कि “ये सपा की अपने लोगों को हमारी सभा में घुसाने की साज़िश है। ऐसे तो आधी खाटों पर इनकी पुलिस ही बैठ जायेगी। हमारे कार्यकर्ता और पब्लिक कहां बैठेगी…राहुल जी के सर पे?”



ऐसी अन्य ख़बरें