Thursday, 19th January, 2017
चलते चलते

बाथरूम में काला धन छुपाने वालों को सुबह-सुबह ठंडे पानी से नहलाया जाएगा

14, Dec 2016 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. पिछले कुछ दिनों से आयकर विभाग और पुलिस की टीमें अचानक हरकत में आ गई हैं और काला धन छुपाकर रखने वालों के घरों पर छापे मार रही हैं। रेड के दौरान सबसे ज्यादा ब्लैक मनी बाथरूम से बरामद हो रही है। लगता है कि ये लोग ब्लैक मनी को बाथरूम में इसलिये रख रहे हैं ताकि पैसों की गर्मी से बाथरूम की ठंडक को कम कर सकें। इसीलिये केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि जिस किसी के बाथरूम से नए-पुराने नोट बरामद होंगे, उन्हें एक महीने तक ठंडे पानी से नहलाया जाएगा।

cold water
ठंडे पानी में नहलाया जाता एक ब्लैक मनी होल्डर

सरकार भी जानती है कि सर्दियों में नहाना किसी सज़ा से कम नहीं है और सुबह-सुबह ठंडे पानी से नहाना तो ‘काला पानी’ समझो! इसलिये सरकार को उम्मीद है कि लोग नहाने के डर से बाथरूम में पैसे छुपाना बंद कर देंगे। आयकर विभाग के एक बड़े अधिकारी ने इस संबंध में बताया कि “हमारे अफसरों को रोज़ सुबह-सुबह दूसरों के बाथरूम में झांकना पड़ता है। इससे उन्हें कितनी शर्मिंदगी उठानी पड़ती है, ये हम ही जानते हैं। जब एक महीने तक ठन्डे पानी से सर सुन्न होगा, तो उनकी सारी अक्ल ठिकाने आ जाएगी।”- अधिकारी ने दांत रगड़ते हुए कहा।

“और जिनके बाथरूम से नए नोट बरामद होंगे उन्हें नहाने के लिये साबुन नहीं दिया जायेगा, जबकि पुराने नोट वालों को साबुन दिया जाएगा।” -अधिकारी ने आगे बताया।

वहीं, बिल्डर्स एसोसिएशन ने भी बाथरूम में पैसा रखने वालों की कड़ी निंदा की है। मुंबई के एक नामी बिल्डर मि. रहेजा ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि “अगर हमें पता होता कि हमारे बनाए बाथरूम में लोग नहाने के बजाय पैसा छुपाकर रखेंगे तो हम अपने फ्लैट की कीमत डबल कर देते।” रहेजा ने ‘ऑफ द रिकॉर्ड’ कहा कि “हम बिल्डर लोग उन पैसों पर क़ब्ज़ा करने की योजना बना रहे हैं। हम बाथरूम में मिलने वाली ब्लैक मनी पर दावा ठोंकेंगे और कहेंगे कि ये रकम हमारी है, जो बिल्डिंग बनाते समय ग़लती से बाथरूम की दीवार में छूट गयी थी।”



ऐसी अन्य ख़बरें