Tuesday, 25th April, 2017
चलते चलते

अब चैत्र नवरात्र में भी खेलना होगा डांडिया: सीएम योगी का नया आदेश

02, Apr 2017 By Dharmendra Kumar

लखनऊ. माननीय आदित्यनाथ योगी जी ने जब से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है, तभी से रोज़ नये-नये आदेश जारी कर रहे हैं। यूपी के सरकारी अफसर चौबीसों घंटे दहशत में रहते हैं कि पता नहीं कब कौन सा नया फरमान आ जाये। नये फ़रमानों से दुखी सचिवालय की सीनियर लेखाकार किंजल सिन्हा ने कहा, “इतने सालों के बाद जब कोई कमाई वाली पोस्ट मिली, तो ये योगीजी आ गए।”

Dandiya1
डांडिया की प्रैक्टिस करते यूपी के सरकारी कर्मचारी

वो यह कह ही रही थीं कि तभी चपरासी ने उनके हाथ में नये आदेश की कॉपी लाकर थमा दी। जिसमें सभी कर्मचारियों को निर्देश दिया गया था कि ‘चैत्र नवरात्र के पावन अवसर पर सभी कार्यालयों में हर शाम डांडिया का आयोजन किया जायगा। काम ख़त्म होने के पश्चात सब लोग आवश्यक रूप से इसमें भाग लेंगे।” आदेश में आगे लिखा था, “प्रत्येक कार्यालय के डांडिया आयोजन को रोज़ शाम को मुख्यमंत्री आवास से देखा व कण्ट्रोल किया जायेगा, ताकि आयोजन में कोई धांधली ना हो।”

इस आदेश के आते ही सारे सरकारी दफ़्तरों में ऐसा माहौल बना कि बस पूछिये मत! सब लोग आनन-फानन में शाम की तैयारी करने लगे। फाइल्स को किनारे रख, डांडिया कहाँ से खरीदी जाए, इसकी चर्चा छिड़ गयी। कई  घंटों की चर्चा के बाद पता चला कि अधिकाँश कर्मचारी और अफसर डांडिया खेलना ही नहीं जानते। अब क्या हो? सब चिंता में डूब गये।

इसके उलट, रेवेन्यू सेक्रेटरी तिवारी जी बेहद ख़ुश हैं क्योंकि उन्हें डांडिया खेलना आता है। फिलहाल वे डांडिया गानों की लिस्ट बनाने में बिजी हैं। जब हमने उनसे इस बारे में बात की तो उन्होंने कहा कि “यह हमारे देश का प्रसिद्ध त्योहार है और सबको इसे खेलना चाहिये।” “लेकिन गैर-हिन्दू कर्मचारियों का क्या होगा?”, तो वो मुस्कुराते हुए बोले, “कभी तो हमें क्षेत्रवाद, धर्मवाद और जातिवाद से ऊपर उठकर सोचना चाहिये। योगी जी की सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास’ के रास्ते पर चल रही है।” फिर एक गरबा गीत गुनगुनाते हुए बोले- “आने दीजिये रमज़ान। हम सरकारी कर्मचारियों से रोज़ा भी रखवाएँगे। अब उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश बनकर ही रहेगा।”



ऐसी अन्य ख़बरें