Friday, 23rd June, 2017
चलते चलते

CID पता लगाएगी EVM का रहस्य, मायावती ने सौंपी एसीपी प्रद्युमन को ज़िम्मेदारी

13, Mar 2017 By Aman Rana

लखनऊ/मुंबई.  यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी की भारी बहुमत मिलने के बाद बीएसपी सुप्रीमो मायावती हैरान हैं कि उनके वोट आख़िर गये कहां तो गये कहां! उन्हें ईवीएम निगल गयी या आसमान खा गया! उनका शक ईवीएम मशीनों पर ही है, इसलिये उन्होंने कहा है कि ईवीएम की गड़बड़ी के वजह से ही उनके सारे वोट बीजेपी को चले गए।

CID
“इस ईवीएम में कुछ तो गड़बड़ है दया!”

बहनजी का कहना है कि अगर ये EVM ठीक से काम कर रहे होते तो सारे वोट BSP को ही मिलते। उन्होंने तो यहां तक भी कह दिया है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ही ख़ुद जाकर लोगों के बदले वोट डाले हैं। उधर, बीजेपी ने इन आरोपों को सिरे से ख़ारिज़ कर दिया है। लेकिन बहनजी आसानी से हार नहीं मानने वाली हैं। इस ईवीएम कांड की जांच करने के लिए उन्होंने CID का सहारा लेने के प्लान बनाया है।

CID के एसीपी प्रद्युमन और उनकी टीम पर बहनजी को पूरा भरोसा है। अपने फ़ैसले की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि “मैं जानती हूँ कि EVM में धांधली हुई है। इसलिये इनकी जांच की ज़िम्मेदारी मैंने सीआईडी वाले प्रद्युमन जी को सौंपी है ताकि वे जल्द से जल्द इसकी जांच करके हमारा बहुमत साबित करें।”

उधर, एसीपी प्रद्युमन भी ईवीएम के इस ख़ुफ़िया रहस्य का पता लगाने के लिए बहुत उत्सुक हैं। जांच शुरु करते हुए उन्होंने कहा- “कुछ तो गड़बड़ है दया! आखिर ये बीजेपी जीती तो जीती कैसे? इसके जीतने का मतलब है कि बाकी पार्टियों की हार हुई है! हमें इसका जल्द से जल्द पता लगाना होगा।”

एसीपी साब ने बताया कि वो इन सारी ईवीएमों को डॉक्टर सालुंके की लैब में भेज कर जांच करवाएंगे, जिनकी स्मार्टनेस से आज तक कोई बच नहीं पाया है। इंस्पेक्टर दया ने भी एसीपी साब को भरोसा दिलाया है कि “अगर ज़रूरत पड़ी तो दरवाज़ों की तरह मैं सारी ईवीएम तोड़ डालूंगा!”



ऐसी अन्य ख़बरें