Sunday, 17th December, 2017

चलते चलते

नौ अटेम्प्ट्स के बाद CA बनने वाले युवक ने नोटबंदी के रोज़ बदलते नियमों से तंग आकर छोड़ा CA

21, Dec 2016 By banneditqueen

इंदौर. इंद्रपुरी में रहने वाले सुदीप ने कल अचानक ही ऐसा फैसला लिया जिसको सुनकर सभी सकते में आ गए। सुदीप ने कल ऐलान किया की वह CA की नौकरी छोड़ रहा है और कल से पिताजी के गल्ले पर बैठेगा। इस फैसले को जानकर सुदीप के परिवार वाले हैरान भी थे और दुखी भी। सुदीप ने पूरे नौ अटेम्प्ट्स के बाद CA की परीक्षा पास की थी। स्कूल के समय से ही सुदीप का सपना था कि वह CA बने। स्कूल खत्म होते ही उसने CA की कोचिंग शुरू कर दी।

आज का नया नियम पढ़ परेशान होता सुदीप
आज का नया नियम पढ़ परेशान होता सुदीप

CPT तो एक बार में ही क्लीयर हो गई पर उसके बाद जो मुश्किल घड़ी शुरू हुई वो तो जैसे खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही थी। सुदीप का हर बार एक ग्रुप रह जाता। कभी ग्रुप A क्लीयर नहीं होता तो कभी ग्रुप B। पर सुजीत टस से मस से नहीं हुआ। उसने कसम खाई थी कि जब तक CA की परीक्षा नहीं निकलती तब तक वह हार नहीं मानेगा। दिन रात कड़ी मेहनत करने के बाद भी उसे पूरे नौ अटेम्प्ट्स लग गए। पर जिस दिन सुदीप का CA क्लीयर हुआ उस दिन उसकी खुशी का ठिकाना नहीं था, यही नही परिवार वालों ने पूरी कॉलोनी में मिठाई बाटी। पर कल जब सुदीप के इस फैसले ने सबके मन में सवाल खड़े कर दिये।

कई बार पूछने के बाद सुदीप ने बताया कि “इतने साल CA की पढ़ाई की तो कभी ये नहीं लगा कि आज जो पढ़ रहा हूँ वो कल काम आएगा या नहीं। कई बार फेल होने के बाद भी हिम्मत नहीं हारी पर अब मैं हिम्मत हार चुका हूँ। जब से नोटबंदी का दौर शुरू हुआ है तब से लोगों के सवालों के जवाब दे दे कर थक गया हूँ। आज नया नियम याद कर के लोगों को समझाओ तब तक नया नियम जारी हो जाता है। CA के नौ अटेम्प्ट्स के बाद भी मेरे सब्र का बाँध नहीं टूटा पर नोटबंदी के नियमों ने वो कर के दिखा दिया जो CA की कठिन परीक्षा नहीं कर सकी। अब मुझसे और बर्दाश्त नहीं होता, कल से पापा के साथ दुकान पर बैठुँगा।” ऐसा कहते हुए सुदीप फूट फूट कर रोने लगा। सुदीप का दर्द उसके परिवार वालों से देखा नहीं गया। सुदीप के इस ऐलान के बाद से घर में कोई नोटबंदी की बात नहीं कर रहा ना ही टीवी देख रहा है।



ऐसी अन्य ख़बरें