Tuesday, 24th April, 2018

चलते चलते

ऐसा ही चलता रहा तो एक दिन बीजेपी अध्यक्ष बन जाएँगे नेतान्याहू :सूत्र

17, Jan 2018 By Ritesh Sinha

अहमदाबाद. प्रधानमंत्री मोदी और इजरायल के पीएम नेतन्याहू की दोस्ती अगर इसी स्पीड से चलती रही तो वो दिन दूर नहीं जब नेतन्याहू बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन जाएँगे और शाह जी हाथ मलते रह जाएँगे। यही वजह है कि इन दोनों की दोस्ती से अमित शाह भी ज्यादा खुश नहीं हैं। उन्हें अपनी कुर्सी जाने का डर सताने लगा है। “ना जाने कब मोदीजी उन्हें यहीं रोक लेंगे और ना जाने कब उनके हाथों में बीजेपी की कमान सौंप देंगे! फिर मैं क्या करूँगा?”-अमित शाह बड़बड़ाए। फिर कुछ लोगों ने उन्हें समझाया कि आप चिंता मत कीजिए, मोदीजी ऐसा नहीं करेंगे।

अमित शाह हैं चिंतित
अमित शाह हैं चिंतित

इस “दोस्ती” नामक बीमारी के लक्षण उसी दिन दिखना शुरू हो गए थे जिस दिन मोदीजी इजरायल यात्रा पर गए थे। हमने ही आपको खबर दी थी कि कैसे नेतन्याहू का साथ छुड़ाने के लिए मोदीजी को सौ का नोट देना पड़ा था। यह सिलसिला अब तक नहीं रूका है, और भारत में भी धड़ल्ले से चल रहा है।

एक तो नेतन्याहू पूरे छः दिनों के लिए भारत आए हैं। इतना लंबा भारत का दौरा करने की हिम्मत श्रीलंका की क्रिकेट टीम के अलावा किसी के पास नहीं है। वे पिछले चार दिनों से मोदीजी के साथ साये की तरह चिपके हुए हैं, कई बार तो वे अपनी पत्नी को भी भूल जाते हैं कि वो मेरे साथ ही आई है। मोदीजी उन्हें हर उस जगह पर ले जा रहे हैं जहाँ नेतन्याहू नहीं जाना चाहते। अगर मोदीजी के पास कुछ काम नहीं है तो क्या नेतन्याहू के पास भी नहीं है?

इस बीच खुलासा हुआ है कि 14 तारीख को जब नेतन्याहू भारत पहुंचे थे, उसी दिन शाम को उनका आधार कार्ड भी बन गया था। मोदी जी ने आज शाम तक राशन कार्ड बनवा देने का वादा भी कर दिया है। यानि ये दोनों रूकने वाले नहीं हैं।

विदेश नीति पर बोलने वाले एक्सपर्ट जुगलकिशोर शास्त्री ने बताया कि, “कुछ भी हो सकता है! अमित शाह को सावधान रहना चाहिए! साथ ही मुझे यह भी लगता है अगर किसी राज्य में चुनाव का एलान भी हो गया तो भी मोदीजी उनका साथ नहीं छोड़ेंगे!”



ऐसी अन्य ख़बरें