Tuesday, 30th May, 2017
चलते चलते

नीतीश का एलानः "पिछले 20 सालों के सभी टॉपर्स का फिर से एग्ज़ाम होगा", दुनिया भर में फैले लाखों बिहारियों में हड़कंप

07, Jun 2016 By बगुला भगत

पटना.  बारहवीं कक्षा के टॉपर्स घोटाले के बाद बिहार सरकार ने फ़ैसला किया है कि 1990 के बाद के सभी टॉपर्स की फिर से परीक्षा ली जायेगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह एलान करते हुए कहा कि “आज एक बार फिर हमारे डीएनए पर सवाल उठाये जा रहे हैं। लोग हमारे ईमानदार थर्ड क्लास स्टूडेंट को भी नकलची समझ रहे हैं।”

Bihar
पुनःपरीक्षा के विरोध में सड़कों पर उतरे कुछ टॉपर

मुख्यमंत्री निवास पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए नीतीश ने कहा- “लेकिन घबराने का बात नहीं है। हम सिर्फ़ सब्जेक्ट के नाम पूछेंगे। इस घोटाले के टॉपर्स से भी सब्जेक्ट के नाम ही पूछे गये थे।”

“हालांकि हमने तो 40 साल पहले 12वीं कर ली थी लेकिन फिर भी सीएम होने के नाते सबसे पहले री-एग्जामिनेशन हम देंगे।” -यह कहकर वो अपना परीक्षा फॉर्म भरने लगे।

मुख्यमंत्री का आदेश मिलते ही बिहार माध्यमिक शिक्षा विभाग ने देश और दुनिया में फैले उन बिहार निवासियों को पुनःपरीक्षा के प्रवेश-पत्र भेजने शुरु कर दिये हैं, जिन्होंने 1995 के बाद 12वीं कक्षा में टॉप किया है।

इस ख़बर से देश और दुनिया में फैले बिहार के लोगों में हड़कंप मच गया है। नेता, अफ़सर, पत्रकार सब डरे हुए हैं। सबसे ज़्यादा ख़ौफ़ मीडिया के लोगों में समाया हुआ है। एक प्रमुख हिन्दी न्यूज़ चैनल के एक जाने-माने पत्रकार ने कहा- “हमें तो अब सब्जेक्ट के नाम पे बस ब्रेकिंग न्यूज़ ही याद है।”

सरकार के इस एलान के बाद टॉप करने वाले बच्चों के मां-बाप अब उनकी धुनाई कर रहे हैं, जबकि थर्ड क्लास वालों के घरवाले अपने बच्चों को दुलार रहे हैं। अवधेश प्रताप सिंह नाम के अभिभावक ने अपने बेटे के सूजे हुए गाल को सहलाते हुए कहा- “हमने बेकार में ही अपने बिटुआ के गाल में भूसा भर दिया। तूने तो थर्ड डिवीजन ला के हमरे खानदान का नाम रोसन कर दिया रे!”

उधर, लालू प्रसाद यादव का इस फ़ैसले पर कहना है कि “अच्छा हुआ, हमरे किसी बच्चे ने टाप नहीं किया, नहीं तो आज ही सरकार गिर जाती!” मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने भी इस पर ख़ुशी जताते हुए कहा है कि “बिहार के बाद यूपी सरकार को भी ऐसा ही करना चाहिये और जो एग्ज़ाम पास ना कर पाये, उसे मुंबई से वापस बुला लेना चाहिये।”



ऐसी अन्य ख़बरें