Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

किडनैपरों ने भी निकाले फादर्स डे डिस्काउंट, फिरौती की रकम बच्चे का बाप लाये तो 5% छूट

19, Jun 2017 By Pagla Ghoda

छपरा, बिहार. फादर्स डे भले ही निकल गया हो, पर फादर्स डे का जश्न पूरे देश में अभी भी जमकर मनाया जा रहा है। इसी सेलिब्रेशन को सार्थक करते हुए छपरा ज़िले के कई किडनैपर गुटों ने फादर्स डे के उपलक्ष्य पर भारी डिस्काउंट दिए हैं। फ़ेकिंग न्यूज़ ने ज़िले के एक कुख्यात किडनैपर सरजू तिवारी से स्काइप वीडियो कॉल के जरिये बात की। हालाँकि श्री तिवारी काफी tech-savvy हैं पर वीडियो कॉल पे भी वो अपना पुराना गुलाबी रंग का गमछा बांधे अपना चेहरा छिपाये हुए थे और अपने देसी कट्टे को छोटे झाड़ू के तिनके से साफ़ कर रहे थे।

Kidnapper1
किडनैप करने जाते सरजू तिवारी और उनके गुर्गे

ज़ोरदार आवाज़ में सरजू बोले, “अभी कल की बात ले लीजिये, कल हम दस साल के मुन्नू और उसके छोटे भाई टुन्नू को उसके माँ-बाप को सकुसल लौटाए हैं। और चूंकि बच्चों के फादर साब खुद फिरौती का रकम ले के आये थे, तो हम पूरा पांच परसेंट डिस्काउंट दे दिए। वो दस लाख लाये थे, हम पूरा पचास हज़ार लौटा दिए के, ये लीजिये पांच पर्सेंट “फादर्स डे कैस बैक”, हमरे तरफ से बच्चा लोगन के लिए मिठाई और कपड़ा बनवा दीजियेगा। वो क्या है ना किडनैप होने से बच्चा लोग डर जाता है, कपड़ा चॉकलेट पा के खुश हो जायेगा।”

सरजू के छोटे भाई बिरजू जो कि हरे रंग का गमछा चेहरे पे बांधे हुए थे, ने भी इस मामले में अपने विचार व्यक्त किये। उन्होंने कहा, “अब आप कहेंगे के एक तो हम लोगन को लूट रहे हैं, और उस पे कैशबैक दे रहे हैं, ये कैसी विडम्बना है? लेकिन ये सोचिये के जब आप मॉल में जा के महंगा-महंगा कपड़ा खरीदते हैं, बहुते महंगा खाना खाते हैं, तो वो लूट नहीं है क्या? वहां आपको लूटा नहीं जा रहा क्या? वहां तो आप कैशबैक पा के बहुते खुस हो जाते हैं। तो यहाँ भी हो जाइये खुस।”

एक बीड़ी सुलगाते हुए सरजू ने इंटरव्यू ख़त्म किया और जाते-जाते हमें चेताया, “और हाँ अगर किडनैप होना है तो ये सबसे बढ़िया टाइम है, अगले एक दो दिन में हो जाइये, चूंकि दो दिन बाद हमरा ये कैशबैक ऑफर ख़तम हो रहा है। उसके बाद से फुल वसूली, एक रुपया भी वापिस नहीं देंगे। हाँ, अगर आपका फॅमिली से दुइठो किडनैपिंग हो चुका हो तो तीसरा में हम थोड़ा डिस्कॉउंटिंग कर देंगे। वो केस-टू-केस बेसिस पे हम डिसिजन लेंगे। हमरा सेलफोन नंबर, ईमेल आईडी सब हमारे पैम्फलेट में है, प्लीज रेफेर कीजिये।”



ऐसी अन्य ख़बरें