Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

जेल में भी समाज सेवा चालू रखेंगे बाबा राम रहीम, 10 साल तक क़ैदियों के कपड़े-बर्तन धोएंगे

28, Aug 2017 By बगुला भगत

रोहतक जेल. बलात्कार के साथ-साथ पार्ट टाइम समाज-सेवा के लिये मशहूर रहे बाबा गुरमीत राम रहीम जेल में भी अपनी समाज-सेवा चालू रखेंगे। यह सज़ा उन्हें जज साब ने अपनी मर्ज़ी से नहीं सुनाई है, बल्कि ख़ुद बाबाजी के कहने पर उन्होंने यह फ़ैसला दिया है। अब 10 साल तक सारे क़ैदियों के कपड़े और बर्तन बाबाजी ही धोएंगे।

gurmeet ram rahim2
यह अनुभव बाबाजी को जेल में काम आयेगा

असल में, सज़ा सुनते समय बाबाजी ने गुज़ारिश की थी कि “अगर मुझे जेल भेज दिया तो फिर मैं समाज-सेवा कैसे करुंगा?” तो जज साब ने उनसे कहा कि “आपके लिये जेल में काम की कोई कमी नहीं रहेगी। जितना मर्ज़ी समाज-सेवा करना। और फिर क़ैदियों की सेवा से अच्छी समाज सेवा और क्या होगी!”

इसके अलावा, प्रधानमंत्री मोदी के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ में भी वो 10 साल तक बराबर योगदान देते रहेंगे। पूरे जेल परिसर में झाड़ू बाबाजी ही लगाएंगे और वो भी अकेले! फ़र्क सिर्फ़ ये रहेगा कि इस बार उनके फ़ोटो नहीं खिंचेंगे। हालांकि, झाड़ू के नाम पर बाबाजी ने थोड़ी ना-नुकुर की।

तो जज साब ने उन्हें सीएम खट्टर के साथ झाड़ू लगाने वाला फ़ोटो दिखाते हुए पूछा, “इस फ़ोटो में ये आप ही हैं ना?” इस पर बाबाजी ने गर्दन झुकाते हुए कहा, “जी हाँ!” “आप तो बड़ी अच्छी झाड़ू लगाते हैं। इसे जेल में भी कन्टीन्यू कीजिये।” यह सुनकर बाबाजी रोने लगे। जज साब ने पूछा तो कहा कि “ये तो ख़ुशी के आँसू हैं, समाज सेवा की ख़ुशी के!”

साथ ही, बाबाजी की ‘च्वॉइस’ को ध्यान में रखते हुए, जेल में बैरक के बजाय उन्हें एक अंधेरी गुफ़ा में रखा जाएगा, जिसके निर्माण का काम ज़ोर-शोर से चल रहा है। इस गुफ़ा में क़ैदी उन्हें रोज़ ‘माफ़ी’ दिया करेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें