Wednesday, 25th April, 2018

चलते चलते

"बलात्कार नहीं, वेस्टर्न कल्चर के ख़िलाफ़ है 'एंटी रोमियो स्क्वाड'"- योगी आदित्यनाथ

17, Apr 2018 By Saquib Salim

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन आरोपों का खंडन किया है, जिनमें विपक्ष ने कहा था कि सरकार उन्नाव और अन्य बलात्कार की घटनाओं में पूरी तरह विफल रही है। उन्होंने कहा कि “कुछ विपक्षी नेता ये कहते फिर रहे हैं कि सरकार का ‘एंटी रोमियो स्क्वाड’ विफल रहा है जो कि सरासर बेबुनियाद आरोप है।”

yogiji
एंटी रोमियो स्क्वायड का काम समझाते योगी जी

उन्होंने बताया कि “‘एंटी रोमियो स्क्वाड’ का उद्देश्य बलात्कार रोकना था ही नहीं! ये स्क्वाड तो पश्चिमी सभ्यता की रोकथाम के लिए बनाया गया है। स्क्वाड कर्मियों को साफ़ निर्देश है कि यदि कोई लड़का-लड़की कहीं पार्क, मॉल, या रेस्टोरेंट में साथ बैठे पायें जाये तो तत्पर कार्यवाही की जाये और लड़के को धोकर गिरफ़्तार कर लिया जाये। क्योंकि लड़के का लड़की से उसकी रज़ामंदी के साथ मिलना और दोस्ती करना भारतीय संस्कृति के विरुद्ध है।”

“बलात्कार के बारे में इस स्क्वाड को कोई निर्देश नहीं दिए गए हैं क्योंकि अभी तक यह प्रमाणित नहीं हो पाया है कि बलात्कार पश्चिमी सभ्यता का हिस्सा है या भारतीय संस्कृति का! अगर सिद्ध हो गया कि बलात्कार वेस्टर्न कल्चर का हिस्सा है तो केवल ‘एंटी रोमियो स्क्वाड’ ही नहीं बल्कि बाक़ी दल जो भारतीय संकृति की रक्षा के लिए लड़के-लड़कियों को मारते हैं, वे सब बलात्कारियों की भी पिटाई करेंगे।” -योगी जी ने समझाते हुए कहा।

उन्होंने आगे कहा कि “इन सब बलात्कारों के लिए नेहरु और अंग्रेज़ सरकार ज़िम्मेदार हैं। अंग्रेज़ों ने पहले बाल-विवाह पर प्रतिबन्ध लगाया और फिर नेहरु ने शादी की उम्र बढ़ाकर 18 कर दी। अगर ऐसा ना होता तो रेप पीड़िता का कब का विवाह हो चुका होता और वो किसी दूसरे गाँव में अपनी ससुराल में रहती, जिस कारण विधायक जी को उसका बलात्कार ना करना पड़ता। ये भी संभव है कि कम आयु में विवाह और गर्भधारण के कारण वो युवती 17 की उम्र तक पहुँच ही ना पाती परन्तु नेहरु की नीतियों के कारण ऐसा नहीं हो सका।”

अंत में उन्होंने कहा कि “जैसे ही पता चलेगा कि बलात्कार भारतीय संस्कृति के विरुद्ध है और हिन्दू आस्था पर हमला है तो हम ‘एंटी रोमियो स्क्वाड’ और अपने दलों को आदेश देंगे कि प्रेमी युगल की तरह बलात्कारियों के ख़िलाफ़ भी कार्रवाई की जाये।”



ऐसी अन्य ख़बरें