Saturday, 19th August, 2017

चलते चलते

500-1000 के नोट बंद, भिखारियों ने मांगी Z प्लस सिक्यूरिटी

09, Nov 2016 By Naveen Choudhary

दिल्ली. मोदी सरकार के अचानक 500 और 1000 के नोट बंद कर देने से देश में खलबली मच गयी है। मोदी सरकार के इस फैसले के परिणाम पर विद्वान् विचार कर ही रहे थे कि तभी देश के अलग-अलग कोनों से भिखारियों पर हमला करके पैसे लूटने की खबर आने लगी। दिल्ली के कनॉट प्लेस पर भीख मांगने वाले अमीरचंद ने बताया कि ”मैं फुटपाथ पर बैठा अपनी दिन की कमाई गिन रहा था कि तभी जनपथ रोड की तरफ से तेजी से उसे अपनी तरफ लैंडरोवर आती दिखी। मुझे लगा कि शायद सलमान खान दिल्ली आ गए हैं लेकिन उनकी उम्मीद के विपरीत गाड़ी मुझ पर नहीं चढ़ी बल्कि मेरे करीब आ कर रुकी। लैंडरोवर में से चार हट्टे-कट्टे लड़के उतरकर मेरी तरफ झपटे और उसका सिक्कों का थैला लेकर भाग गए।” ऐसी ही खबर दिल्ली, कोलकाता इत्यादि शहरों से भी आ रही है।

खाने के बदले 100 रुपये का नोट माँगता आदमी
खाने के बदले 100 रुपये का नोट माँगता आदमी

बड़े नोट बंद होने की खबर का असर माफिया पर भी तुरंत होता दिखाई दिया है। मुंबई से खबर आ रही है कि दाउद इब्राहिम के आदमी चाकू की नोक पर भिखारियों से 100 रुपये के नोट लूट रहे हैं, इस अफरा-तफरी के बीच एक मात्र एक अच्छी खबर आ रही है कि कई नेता बोरियों में नोट भरकर भिखारियों से 500 से बदले 100 देने की भीख मांग रहे हैं।

भिखारियों पर हुए इस अप्रत्याशित हमले को देखते हुए अखिल भारतीय भिखारी महासंघ ने प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से तुरंत देश के सभी भिखारियों को Z प्लस सिक्यूरिटी देने की मांग की है। गृह मंत्रालय ने अखिल भारतीय भिखारी महासंघ के सभी सदस्यों को अगले दो दिनों तक सतर्क रहने एवं बाहर ना निकलने की सलाह दी है।



ऐसी अन्य ख़बरें