Friday, 15th December, 2017

चलते चलते

पति को धोखे से बिसलेरी की बोतल में किनले का पानी पिलाकर पत्नी ने उगलवाया सच

10, Dec 2014 By बगुला भगत

दिल्ली. पंजाबी बाग की रहने वाली मालती (बदला हुआ नाम) अपने पति राजेश शर्मा की बेवफ़ाई से इस कदर तंग आ चुकी थी कि उसने कई बार अपनी जान देने की कोशिश की। उसे शक था कि राजेश का अपने ऑफ़िस में किसी से अफ़ेयर चल रहा है लेकिन पूछने पर वो हर बार कोई ना कोई झूठ बोल देता था।

तभी एक दिन मालती की मां ने उसे सलाह दी कि “मार्केट में किनले नाम का कोई पानी आया है, जिसे पीते ही आदमी सच बोलने लगता है।” मालती ने बताया कि “मां अब तो किनले के बारे में देश का बच्चा-बच्चा जान गया है।” “तो फिर उसे बिसलेरी की बोतल में किनले पिला दो ना!”, -मां की यह बात मालती को जंच गयी।

दो धारी तलवार
दो धारी तलवार

मालती तुरंत जाकर दुकान से बिसलेरी की बोतल लेकर आयी, उसे खाली करके उसमें किनले का सच्चाई वाला पानी भर दिया। राजेश ऑफ़िस से घर पहुंचा तो मालती ने उसे बिसलेरी की उसी बोतल से पानी दिया। राजेश को ज़रा भी शक नहीं हुआ और उसने एक ही घूंट में पूरा गिलास खाली कर दिया।

पानी पीते ही वो फूट-फूटकर रोने लगा और मालती को एक-एक सच्चाई बता दी -काम वाली पार्वती से लेकर ऑफ़िस की पायल तक! उसने ये भी बोल दिया कि मालती की बुआ के पोते के नामकरण संस्कार वाले दिन जब उसने ऑफ़िस में कोई ज़रूरी काम बताया था तब भी वो पायल के साथ मॉल में था।

लेकिन किनले का असर ख़त्म होते ही राजेश सारी बातों से मुकर गया और फिर से बिसलेरी जैसी बातें करने लगा। इस पर मालती ने उसे थोड़ी देर पहले मोबाइल में रिकॉर्ड की गयी क्लिपिंग दिखाते हुए धमकी दी कि “अगर तुम अब भी नहीं माने तो मैं ये वीडियो सारे घरवालों को दिखाऊंगी और फ़ेसबुक पर भी डाल दूंगी!” इसके बाद राजेश उसकी हर बात मानने को तैयार हो गया।

अपने वैवाहिक जीवन से अब पूरी तरह खुश नज़र आ रही मालती ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि “चाहे चाय हो या सब्ज़ी, अब मैं सबकुछ किनले में ही बनाती हूं। थोड़ा महंगा तो पड़ता है लेकिन घर में सब सच बोलते हैं।”

मालती की कहानी सामने आने के बाद अब सीबीआई समेत सभी जांच एजेंसियां भी खूंखार आतंकवादियों और अपराधियों पर किनले आजमाने के बारे में विचार कर रही है। उनका मानना है कि “किनले की बोतल लाई डिटेक्टर और नारको टेस्ट से ज़्यादा भरोसेमंद है और उनसे हज़ार गुना सस्ती भी!”

उधर, भारत में अपने पानी की बिक्री में भारी गिरावट से परेशान कोका-कोला कंपनी ने सफ़ाई दी है कि “भैय्या, हमारा किनले भी बिल्कुल और पानियों जैसा ही है। उसे पीने के बाद किसी को सच्चाई की उल्टी नहीं होती। वो ‘बूंद-बूंद’ वाला चुतियापा तो ‘समथिंग डिफ़रेंट’ के चक्कर में हो गया था।



ऐसी अन्य ख़बरें