Wednesday, 22nd February, 2017
चलते चलते

शूटिंग ख़त्म होने के बाद भी हिंदी में बोलती दिखी हिंदी फ़िल्म अभिनेत्री, सेट पर हाहाकार मचा

25, Sep 2015 By बगुला भगत

मुंबई. मुंबई के यशराज स्टूडियो में कल एक फ़िल्म की शूटिंग के दौरान भयानक हादसा हो गया। फ़िल्म ‘सिंह इज लिंग’ के सेट पर एक मशहूर अभिनेत्री के हिंदी बोलने की वजह से कई लोग घायल हो गये, जिनमें से दो लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है।

अस्पताल में भर्ती मेकअप मैन तुकाराम ने उस ख़ौफ़नाक हादसे को याद करते हुए बतायाः

“मैडम का शॉट ओक्के हो गया था। वो पूरी दो लाइन का डायलॉग बढ़िया हिंदी में बोल चुकी थीं। सेट पर सब लोग बहुत ख़ुश थे। डारेक्टर साब ने भी आकर अंग्रेजी में उनकी हिंदी की बहोत तारीफ़ की थी।”

मेडमजी की हिन्दी इतनी तो धारदार थी की पूरा शूटिंग सेट उनके झपेटे में आ के तहस नहस हो गया! केवल डाइरेक्टर साहब के अलावा 50-50 मील तक कोई नही बचा!
मेडमजी की हिन्दी इतनी तो धारदार थी की पूरा शूटिंग सेट उनके झपेटे में आ के तहस नहस हो गया! केवल डाइरेक्टर साहब के अलावा 50-50 मील तक कोई नही बचा!

“उसके बाद मैडम आकर अपनी चेयर पे बैठ गयीं। मैं उनका मेकअप ठीक करने लगा। पता नहीं तभी क्या हुआ! मोबाइल पे बात करते हुए वो अचानक दो लाइनें हिंदी में बोल गयीं।”

“आजू-बाजू जित्ते भी लोग खड़े थे, सब उनकी हिंदी की चपेट में आ गये। सेट पे अफरा-तफरी मच गयी। जिस-जिसके कान पे उनकी हिंदी लगी, वो वहीं ढेर हो गया। जब मुझे होश आया तो मैं अस्पताल में था।”

“मैं बीस साल से इंडस्ट्री में हूं। मैंने आज तक किसी हीरोइन को सेट पर हिंदी में बोलते नहीं देखा। ये लोग बस शॉट देने के टाइम पे हिंदी बोलते हैं। बाकी कभी नहीं!” -यह कहकर तुकाराम ख़ामोश हो गया।

इस बीच, उस अभिनेत्री ने इस घटना के लिये माफ़ी मांग ली है। उन्होंने ट्वीट करके कहा है, “मैंने जानबूझकर हिंदी नहीं बोली। ये सब अनजाने में हो गया। अगर किसी को मेरी हिंदी से ठेस लगी है तो मुझे इसका बहुत दुख है।”

हम इस अभिनेत्री के नाम का खुलासा इसलिये नहीं कर रहे हैं, क्योंकि इससे उसकी छवि ख़राब हो सकती है और उसे हिंदी फ़िल्मों में काम मिलना बंद हो सकता है। लेकिन हम आपको इतना बता देते हैं कि वो अभिनेत्री कैटरीना कैफ़, जैकलीन फर्नांडीस, नरगिस फ़ाख़री, एली एवराम और सनी लियोनी में से कोई नहीं है।

उधर, इंडस्ट्री के लोग भी इस अभिनेत्री से बेहद नाराज़ हैं। ‘हम आपके दिल में रहकर आपसे प्यार करने लगे हैं’ (HADMRAPKLH) जैसी अनेक सुपरहिट फ़िल्में दे चुके प्रोड्यूसर करण ज़ोया का कहना है कि “आज उसने हिंदी बोली है, कल कोई और बोलेगा। ऐसे माहौल में हम कैसे काम कर पायेंगे!”

“मुंबई के ऑटो के परमिट की तरह कल को कोई ये भी बोल सकता है कि हिंदी नहीं आती तो हिंदी फ़िल्मों में काम मत करो। व्हाट नॉनसेंस!”



ऐसी अन्य ख़बरें