Monday, 27th February, 2017
चलते चलते

शिव सेना ने की 'सैराट' न देखने वालों पर बैन की माँग

27, Jun 2016 By banneditqueen

मुम्बई. फरवरी माह में रिलीज़ हुई मराठी पिक्चर सैराट ने बॉक्स अॉफिस पर धमाल मचा दिया है। अब तक तकरीबन 100 करोड़ ही कमाई कर चुकी ये मूवी सभी की जुबान पर है। ये भी कहा जा रहा है कि सैराट जैसी दमदार मूवी से बॉलीवुड को डरना चाहिये। मराठी सिनेमा की इस सफलता के बाद लगभग सारी जनता इस मूवी से परिचित हो चुकी है।

Uddhav
जनता से सैराट देखने की मांग करते उद्धव ठाकरे

यही नहीं, मुख्य किरदार पर्ष्या और अर्चि कपिल शर्मा के सुपरहिट ‘द कपिल शर्मा शो’ में भी मेहमान बनकर आए थे। पंद्रह वर्षीय रिंकू रजगुरु (अर्चि) और 22 वर्षीय आकाश थोसर (पर्ष्या) के दमदार अभिनय ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। पिक्चर की अपार सफलता के बाद शिवसेना ने ऐलान किया है कि “सैराट ना देखने वालों को महाराष्ट्र में आने की अनुमति न दी जाए।” पहले ही बिहारियों के खिलाफ ज़हर उगल चुकी शिव सेना इस बयान से फँसती नजर आ रही है।

उसके विरोधियों का कहना है कि यह बीजेपी और शिवसेना की मिलीभगत है। आप पार्टी के सुप्रीमो केजरीवाल जी ने इलजाम लगाया है कि “यह बीजेपी और शिव सेना की सोची समझी साजिश है। हो सकता है कि इस पिक्चर की कमाई का कुछ हिस्सा इन को भी मिले।” हालाँकि यह कहने के अगले दिन ही उन्होंने सैराट का रिव्यू दे डाला।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने उद्धव पर निशाना साधते हुए कहा है कि “शिव सेना की ‘भैया लोगों’ के प्रति नफरत तो पहले ही जनता देख चुकी है अब वो लोगों को ज़बरदस्ती मराठी भी सिखाना चाहती है।” वहीं शिव सेना अपने बयान पर कायम है। शिवसेना के इस बयान का समर्थन राज ठाकरे ने भी किया। राज ठाकरे की पार्टी म.न.से. के कार्यकर्ताओं ने आम जनता को सैराट की टिकट के साथ वड़ा पाव फ्री में बाँटा। इस के बाद तो जैसे थियेटर के बाहर जनता का सैलाब उमड़ पड़ा। अब देखना ये होगा कि बीजेपी शिव सेना की इस माँग का समर्थन करती है या नहीं।



ऐसी अन्य ख़बरें