Wednesday, 22nd November, 2017

चलते चलते

जेलर की कार पर बीट करने के आरोप में 5 कबूतर गिरफ़्तार, लखनऊ सेंट्रल जेल भेजे गये

22, Aug 2017 By बगुला भगत

लखनऊ. यूपी की राजधानी में कुछ कबूतरों को गिरफ़्तार करने का अजीबो-ग़रीब मामला सामने आया है। इन कबूतरों पर लखनऊ सेंट्रल जेल के जेलर राजा श्रीवास्तव की कार पर बीट करने का सनसनीख़ेज़ आरोप है। फिलहाल, कबूतरों को जेल की बैरक नंबर 5 में रखा गया है, जहाँ जेलर साब ख़ुद उनसे पूछताछ कर रहे हैं।

lucknow central
अपनी कार पर पड़ी बीट को देखते जेलर साब

जेल के एक अधिकारी ने घटना के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि “ये शातिर कबूतर कई दिनों से हमारे जेलर साब की कार पर बीट करके फ़ुर्र हो जाते थे। लेकिन आज ये पकड़ में आ ही गये!”

“लेकिन इन्होंने जेलर की कार को क्यों निशाना बनाया? कोई पुरानी दुश्मनी?” इस सवाल पर अधिकारी ने कहा कि “पिछले हफ़्ते कुछ क़ैदी जेल से भागने की कोशिश कर रहे थे, तो जेलर साब ने उन्हें पकड़ लिया और उन्हें धमकाते हुए कहा कि ‘हमारी मर्ज़ी के बग़ैर इस सेन्ट्रल जेल में परिन्दा भी पर नहीं मार सकता!”

“शायद कबूतरों को उनकी ये परिन्दों वाली बात पसंद नहीं आयी और इसी से नाराज़ होकर उन्होंने जेलर साब की कार पर ‘बीटोत्पात’ मचा दिया।” -अधिकारी ने मुस्कुराते हुए कहा।

जेलर साब को शक है कि ये कोई सामान्य कबूतर नहीं हैं बल्कि विशेष रूप से प्रशिक्षित कबूतर हैं, जिनकी आड़ में कोई बहुत बड़ी साज़िश हो रही है। इसलिये वो कबूतरों से सख़्ती से पूछताछ कर रहे हैं। लेकिन उन्होंने अभी तक अपना मुंँह नहीं खोला है और ना ही अपने बाक़ी साथियों के नाम बताये हैं।

वैसे, कबूतरों की संख्या को लेकर भी अलग-अलग ख़बरें आ रही हैं। पहले कहा गया था कि बीट करने वाला एक कबूतर है, फिर पता चला कि दो हैं और अब ख़बरें आ रही हैं कि यह काम पाँच कबूतरों का है।

इस बीच, यह ख़बर सुनते ही कुछ लोग केंद्रीय मंत्री और एनिमल राइट्स एक्टिविस्ट मेनका गांधी के पास पहुँच गये हैं और उनसे कबूतरों को बचाने की मांग कर रहे हैं। मेनका ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि वो पक्षियों पर कोई क्रूरता नहीं होने देंगी। पता चला है कि इन कबूतरों को छुड़ाने के लिये मेनका जी आज शाम लखनऊ सेन्ट्रल जेल पहुँचने वाली हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें