Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

'सीआईडी' सीरियल चलेगा सबसे लंबा, 500 साल पहले ही कर दी थी नास्त्रेदमस ने भविष्यवाणी

06, Dec 2016 By बगुला भगत

पेरिस. फ्रांस के सोलहवीं सदी के महान भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस (1503-1566) ने अपने जीवनकाल में सैंकड़ों भविष्यवाणियाँ की थीं, जिनमें से लगभग सब सच साबित हुईं। विश्व युद्ध से लेकर नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने तक उनकी हरेक भविष्यवाणी बिल्कुल सटीक निकली। लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि नास्त्रेदमस ने ‘सीआईडी’ सीरियल के बारे में भी आज से 500 साल पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी कि 21वीं सदी में यह सीरियल दुनिया में सबसे लंबा चलेगा।

CID-2
नास्त्रेदमस और एसीपी प्रद्युम्न

पिछले हफ़्ते नास्त्रेदमस के पुराने मकान की खुदाई में पुरातत्वविदों को कुछ ऐसे दस्तावेज़ हाथ लगे हैं, जिनसे इस बात की पुष्टि होती है कि सोनी टीवी पर प्रसारित होने वाले इस ‘महा-धारावाहिक’ की लंबाई के बारे में उन्हें उस समय ही आभास हो गया था।

ग़ौरतलब है कि नास्त्रेदमस कविताओं से भविष्य में होने वाली घटनाओं की ओर इशारा करते थे। उन्होंने 1550 में एक कविता में कुछ ऐसा लिखा, जिसके आधार पर माना जा रहा है कि उसमें उन्होंने ‘सीआईडी’ की ओर ही इशारा किया है। कविता कुछ यूँ हैः

पाप का जब बढ़ जायेगा भार, धरती पे मचेगा हा-हाहाकार

प्रभु आयेंगे बनके तारणहार, हर दिशा में फिर टूटेंगे द्वार

दया जी हो जायेंगे आर-पार, रात्रि में जब होगा अंधकार

सहस्त्र वर्षों तक लगातार, हर हफ़्ते के सनीचर-इतवार

अत्याचार पे जब होगा वार, सब प्रजा देखेगी बारम्बार

शोधकर्ताओं का मानना है कि नास्त्रेदमस ने इस कविता में जिस ‘प्रभु’ का ज़िक्र किया है, वो और कोई नहीं बल्कि ‘एसीपी प्रद्युम्न’ ही हैं। कविता में जिन ‘द्वारों’ के टूटने का ज़िक्र है, वे इस सीरियल में टूटने वाले दरवाज़े हैं। कविता में यह इशारा भी किया गया है कि इन दरवाज़ों को ‘दया’ नामक प्राणी तोड़ेगा।

कविता में सीआईडी के सौ सालों तक चलने की भविष्यवाणी की गयी है और 1998 में शुरु हुए ‘सीआईडी’ ने भी इस साल जनवरी में अपने 18 साल पूरे कर लिये हैं। यानि अभी ये 82 साल और चलेगा। और हम यह भी जानते हैं कि ‘सीआईडी’ का प्रसारण भी शनिवार और रविवार की रात को होता है।

इधर, ‘सीआईडी’ के निर्माता अब इस खुलासे को कैश करने की तैयारी में हैं। अगले एपिसोड में एसीपी प्रद्युम्न, सीनियर इंस्पेक्टर अभिजीत और दयाशंकर शेट्टी नास्त्रेदमस के मर्डर की गुत्थी सुलाझाएंगे और हत्यारे को पकड़ने के लिये दया नास्त्रेदमस के घर का दरवाज़ा भी तोड़ेगा (हालांकि, नास्त्रेदमस की मृत्यु बीमारी की वजह से हुई थी)।



ऐसी अन्य ख़बरें