Saturday, 23rd September, 2017

चलते चलते

लंदन वालों पर चढ़ा भोजपुरी फिल्मों का जादू, निरहुआ और रवि किशन को बनाया बंधक

01, Aug 2017 By Ritesh Sinha

लंदन. भोजपुरी फिल्मों के कलाकार अपना फिल्म अवॉर्ड शो लंदन में आयोजित करके मुश्किल में फँस गए हैं। सूचना मिली है कि रवि किशन और निरहुआ अब तक लंदन से नहीं लौटे हैं। इन दोनों को लंदन के एक लोकल गैंग ने किडनैप कर लिया है। हुआ यूँ कि, लंदन में यह अवॉर्ड शो देखने कुछ अंग्रेज भी पहुँच गये थे। शो के दौरान जब तेज़ आवाज में “लगावेलु जब लिपस्टिक” गाना चला तो इन्हें यह गाना बहुत पसंद आया, और ये पागलों की तरह गाने की धुन पर नाचने लगे। सभी गानों पर उन्होंने जमकर डांस किया।

Bhojpuri Film
बंधक बनाये जाने से पहले स्टेज पर निरहुआ

शो में भोजपुरी का जादू उनके सर चढ़कर बोलने लगा, उन्होंने उसी वक़्त प्लान बना लिया कि इनमे से दो-तीन लोगों को तो इंडिया जाने ही नहीं देंगे। उन्हीं में से एक अंग्रेज़ पीटर पार्कर ने इंग्लिश में कहा- “ड्यूड! तंग आ गया हूँ मैं अपने देश का सॉन्ग सुन-सुन के! इन लोग का गाना भी बहुत अच्छा है यार! थोड़ा डबल मीनिंग टाइप भी लग रहा है! इनको अपने फॉर्म हाउस ले चलते हैं, वहां ये लोग गाना गाएंगे और हम लोग जमकर पार्टी करेंगे!” इस तरह प्लान बन गया और उन्होंने रवि किशन और निरहुआ को स्टेज के पीछे से किडनैप कर लिया। वैसे प्लान तो उन्होंने मनोज तिवारी के लिए भी बनाया था, लेकिन वो अब नेता भी बन चुके हैं, इसलिये पकड़ में नहीं आए।

किडनैपिंग का अंदेशा होने पर तुरंत इसकी सूचना लंदन पुलिस को दी गई। पुलिस ने पांच घंटे में ही यह पता लगा लिया कि उन्हें कहाँ पर बंधक बनाकर रखा गया है। लंदन की पुलिस कमिश्नर मैडम डीक ने बताया कि “हमने रवि और निरहुआ जी का पता लगा लिया है, कुछ ही देर में ऑपरेशन ‘रस भरल जवानी’ चलाकर हम इन दोनों को छुड़ा लेंगे।”

बंधकों के हालात पर बोलते हुए उन्होंने बताया कि “वे दोनों फिलहाल ठीक हैं! हमें पता चला है कि उनसे चाकू की नोक पर भोजपुरी गाने गवाये जा रहे हैं। सबसे ज्यादा मांग ‘लिपिस्टिक’ वाले गाने की हो रही है, बीच-बीच में वे “लॉलीपॉप” भी सुन रहे हैं। जिन्होंने भी ये हरकत की है उन्हें बख्शा नहीं जाएगा!” -कहती हुई वे ऑपरेशन “रस भरल जवानी” को लांच करने हेडक्वार्टर रवाना हो गईं।



ऐसी अन्य ख़बरें