Saturday, 21st October, 2017

चलते चलते

करण जौहर-कंगना के बीच बढ़ी तकरार, किसी भी क्षण फूट सकता है दोनों के बीच प्रेम

15, Mar 2017 By Pagla Ghoda

फिल्म सिटी, मुम्बई. करण जौहर और कंगना रनौत के बीच तीखी नोक-झोंक थमने का नाम ही नहीं ले रही, बल्कि बढ़ती जा रही है। करण जहाँ कंगना के बॉलीवुड छोड़ने की बातें कर रहे हैं, वहीं कंगना भी डॉयलाग मार रही हैं कि बॉलीवुड किसी के डैडी की जागीर नहीं है। मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि ये सब प्यार होने से पहले के लक्षण हैं। उनके मुताबिक करण-कंगना की लड़ाई भी अब उस मोड़ पे पहुँच चुकी है, जहां उन दोनों के बीच प्रेम का अंकुर फूटना लाज़िमी है।

kangana-karan
ये दूरियाँ…ये नज़दीकियाँ

बॉलीवुड फिल्मों के विशेषज्ञ पगलेश माशूक उर्फ़ ‘पगलेआज़म’ ने इस बात पर चुटकी लेते हुए कहा, “ओ यार, जे ये कोई तेलुगु मूवी होती ना तो अब तक तो इनका रोमांस कब का चालू भी हो चुका होता। और अब तक तो बात शादी तक पहुंच गयी होती। ये बॉलीवुड वाले इस मामले में थोड़ा स्लो चलते हैं लेकिन अभी ‘इट इस राइट टाइम’, और इन दोनों में अब रोमांस हो ही जाए, वो कहते है न कि इतनी की लड़ाई के प्यार हो गया!

एक बड़ी प्लेट पाव-भाजी में एक मोटी मक्खन की टिक्की डाल के, प्याज के साथ खाते हुए माशूक साहब ने आगे बताया, “और ये कोई पहली लड़ाई नहीं जो प्यार में बदलेगी, पहले भी बॉलीवुड में ऐसे किस्से होते रहे हैं। लेकिन लोग ज़्यादा कयास इस बात पर लगा रहे हैं कि अगर इनकी शादी हो गयी तो इनकी जोड़ी को क्या कहा जायेगा? जब ब्रैड पिट और एंजेलिना को ‘ब्रैंजलीना’ कहा जाता है तो क्या कंगना और जौहर को ‘कंगजर’ कहा जायेगा?” कहते-कहते पगलेश ज़ोर से ठहाका मार के हंस पड़े। हँसते-हँसते उनकी शर्ट के दो बटन भी पेट के दबाव के कारण टूट गए और हंसी कंट्रोल करने के चक्कर में वो कुर्सी से ही गिर पड़े।

जहाँ पचास तरह के विशेषज्ञ पचास तरह के कयास लगा रहे हैं, वहीं इस लेख के लिखे जाने तक कंगना और करण के बीच एक-एक और ताज़े, तीख़े और चटपटे स्टेटमेंट्स का एक्सचेंज हो चुका था, जिसमें थोड़ी और नमक-मिर्ची मिला कर लगभग पच्चीस टैबलॉयड अखबारों में छापे जाने की उम्मीद है।



ऐसी अन्य ख़बरें