Wednesday, 20th September, 2017

चलते चलते

I&B मिनिस्टर बनने के बाद स्मृति इरानी से विशेष बातचीत

29, Jul 2017 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. कुछ लोग कहते हैं कि I&B मिनिस्टर के पास कुछ काम नहीं होता, और ये मंत्रालय, सबसे आरामदायक मंत्रालय होता है, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। खुद I&B मिनिस्टर स्मृति ईरानी, इस मिनिस्ट्री में काम के बढ़ते बोझ से परेशान हैं। फेकिंग न्यूज़ से बातचीत में उन्होंने इस खबर की पुष्टि भी की है। उनका कहना है कि इस डिपार्टमेंट में इतना काम बढ़ गया है, उन्हें एक मिनट की भी फुर्सत नहीं मिलती। आप भी पढ़िये उनकी चुनौतियां, उन्ही की जुबानी-

बिना बात गुस्सा होती स्म्रिति
बिना बात गुस्सा होती स्म्रिति

रिपोर्टर: फेकिंग न्यूज़ में आपका स्वागत है स्मृति जी! तो बताइए एक I&B मिनिस्टर को क्या-क्या काम करने पड़ते हैं?

स्मृति ईरानी: थैंक्यू! देखिए, ऑफिस आते ही सबसे पहले तो मैं अर्नब को फोन लगाती हूँ, और उसे अपनी आवाज कम करने के लिए रिक्वेस्ट करती हूँ! सिर फट जाता है उसे सुनकर। मेरा दावा है कि 2019 से पहले मैं उन्हें धीरे बोलना सीखा दूंगी!

रिपोर्टर: ये तो बहुत अच्छी बात है! उसके बाद आप क्या करती हैं? स्मृति ईरानी: उसके बाद मैं जी न्यूज़ और आज तक वालों को ‘विज्ञापन’ थोड़ा कम दिखाने के लिए कहती हूँ! और मेरा दावा है कि नरेन्द्र भाई के नेतृत्व में हम इस चुनौती को भी पार कर लेंगे!

रिपोर्टर: उसके बाद?

स्मृति ईरानी: फिर मैं ट्विटर खोलती हूँ, और वहां झूठी ख़बरों का शिकार करती हूँ, और कहीं गलत खबर या फोटो दिख जाए तो उन्हें सुधारने के लिए कहती हूँ!

रिपोर्टर: टेलीशॉपिंग वालों का कुछ कीजिए! नाक में दम कर दिया है इन्होने!

स्मृति ईरानी: अच्छा याद दिलाया आपने! हमारा मंत्रालय इस दिशा में भी काम कर रहा है! कान फोड़ने वाली उन लड़कियों को नोटिस भेजा गया है। ..और वो लड़के, जो जीन्स पहनकर टीवी पर एक्सरसाइज करते हैं ना! उनको तो मैं अलग से मज़ा चखाऊँगी!

रिपोर्टर: सेट मैक्स में सूर्यवंशम आना कभी बंद होगा कि नहीं?

स्मृति ईरानी: देखिए! ये “सूर्यवंशम” कांग्रेस सरकार के समय शुरू हुआ था, फिर भी हम इसे बंद करवाने की पूरी कोशिश करेंगे! कितने दिनों तक दूसरों के खाने में ज़हर मिलाते रहेंगे?

रिपोर्टर: और ये टूथपेस्ट में नमक ढूंढने वालों पर आप क्या एक्शन लेंगी? स्मृति ईरानी: हाँ.. उस लड़की की तलाश जारी है, जैसे ही हाथ लगेगी, उसके पूरे खानदान को जेल में डाला जाएगा!

रिपोर्टर: रियलिटी शो’ज में रोना-धोना रोकने के लिए कुछ कर रहे हैं कि नहीं?

स्मृति ईरानी: यह समस्या भी कांग्रेस सरकार की ही देन है! समय रहते कार्रवाई की गई होती, तो आज बच्चे टीवी पर रोने-धोने के बजाय, सिंगिंग या डांसिंग पर ध्यान देते! खैर! हम इनको वापस मुख्यधारा में लाने का प्रयास करेंगे!

(इसी बीच “चलो..चलो बहुत काम है!” -ऐसा कहते हुए उन्होंने इंटरव्यू समाप्त कर दिया)



ऐसी अन्य ख़बरें