Friday, 24th November, 2017

चलते चलते

'गेम ऑफ़ थ्रोन्स' फैन ने मां से कहा, "अ मैन डस नॉट ईट करेला", चप्पलों द्वारा धोया गया

05, Aug 2017 By Pagla Ghoda

घाटकोपर, मुंबई. सर छज्जूलाल यूनिवर्सिटी ऑफ़ फाइन आर्ट्स के छात्र त्रिवेणी प्रसाद वर्मा की कल शाम घर पर काफी धुलाई हुई। दरअसल त्रिवेणी प्रसाद HBO के मशहूर टीवी सीरीज ‘गेम आफ थ्रोन्स’ के बहुत बड़े फैन हैं। उसी के चलते उन्होंने अपनी माताश्री श्रीमती मालती वर्मा से तैश में आके कह दिया कि “अ मैन डस नॉट ईट करेला!”

GoT
धुलाई से पहले त्रिवेणी प्रसाद उर्फ़ टीरियन GoT देखते हुए

फिर शाम को जब उनकी मां ने उन्हें लौकी परोसने की कोशिश की तो उन्होंने फिर मुँह बनाते हुए कहा, “मैनी फेस्ड गॉड डस नॉट बात अ लौकी!” फिर क्या था, मालती जी तुरंत अपनी सैंडल-चप्पल इत्यादि खोजने लगीं और उसके बाद त्रिवेणी प्रसाद की जमकर खबर ली गयी।

त्रिवेणी प्रसाद का GoT पागलपन यहीं ख़तम नहीं हो जाता। इसी शो के चलते उन्होंने अपना नाम भी बदल कर त्रिवेणी प्रसाद से ‘टीरियन’ कर लिया है। अपने मित्र जिमेष सुराणा को वो ‘जेमी लेनिस्टर’ कह के बुलाते हैं और अपने प्रोफेसर बल्लीप्रकाश जी को उनकी पीठ पीछे ‘लार्ड बेलिश’ कहने लगे हैं।

इस मामले में श्रीमती मालती ने अपने विचार व्यक्त किये, उन्होंने कहा, “मैं तो इस लड़के की आदतों से परेशान हो चुकी हूँ। देर देर रात तक टीवी सीरीज देखने से पढ़ाई-लिखाई का तो वैसे ही हर्जा हो रहा है, ऊपर से इसकी बुद्धि भी भ्र्ष्ट हो चुकी है। अजीबो-गरीब बातें करने लगा है, नींद में बड़बड़ाता है, आई वांट सेवन किंगडम्स! ऐसा सब उलट-पुलट कहता है। खैर अभी तो इसे हाल ही में चप्पलों की डोज़ मिली है तो कुछ दिन ठीक रहने की उम्मीद है।

इसी बीच त्रिवेणी प्रसाद टीरियन ने एक लाटरी मैं पैसे भरे हैं, जिसमे अगर वो जीता तो उसे ‘गेम ऑफ़ थ्रोन्स’ के अगले सीजन में हज़ारों लोगों वाली एक भीड़ में बतौर ‘एक्स्ट्रा’ शामिल होने का मौका मिल सकता है। हालाँकि इस रोल मैं उसका कोई डायलॉग नहीं रहेगा पर उसने अभी से अंग्रेजी वाले एक्सेंट की प्रैक्टिस शुरू कर दी है और बाकायदा एक ट्यूटर से अंग्रेजी की क्लासें भी ले रहा है।



ऐसी अन्य ख़बरें