Thursday, 19th January, 2017
चलते चलते

फिल्म में अरिजीत सिंह के गाने नही हुए तो नहीं मिलेगा सर्टिफिकेट : सेन्सर बोर्ड

10, Nov 2016 By bapuji

मुंबई. सेन्सर बोर्ड ने एक अहम फ़ैसला लेते हुए अब फ़िल्मो के संगीत पर लगाम कसने का काम शुरू कर दिया है जिससे गायक समाज मे अफ़रा-तफ़री मच गयी है। इस नये फ़ैसले के अनुसार अब से हर हिन्दी भाषा की फिल्म मे अरिजीत सिंह का कम-से-कम एक गाना होना ज़रूरी है और बिना अरिजीत सिंह के गानो की फिल्म को सर्टिफिकेट नही मिलेगा।

फैसले से गुस्साए हनी सिंह
फैसले से गुस्साए हनी सिंह

सेन्सर बोर्ड के अध्यक्ष से बार-बार पूछने पर उन्होनें झल्लाते हुए बताया कि – “चलो जी आज साफ साफ कहता हूँ इतनी सी बात है कि आजकल हर फिल्म मे अरिजीत के गाने तो होते ही है इसीलिए मुझे इसकी आदत हो गई है और ऐसे में मैने इसको डिफॉल्ट सेटिंग मान लिया है।” इस फ़ैसले से ज़्यादातर प्रोड्यूसर और संगीतकारों को कोई फ़र्क नही पड़ा क्योकि वैसे भी आजकल हर फिल्म के लगभग सारे गाने अरिजीत सिंह ही गाते है लेकिन दूसरे पार्श्वगायको ने इसका कड़ा विरोध किया है। मशहूर गीतकार, संगीतकार और गायक हिमेश रेशमिया जी ने फेकिंग न्यूज़ के संवाददाता को बताया- “जय माता दी! लेट्स राक- इसने तो सबकी छुट्टी कर दी है, मैं तो टाइम पास के लिए फ़िल्मे भी कर लेता हूँ लेकिन दूसरे पुराने गायक जैसे की शान दादा, अभिजीत दादा, सोनू, अनु जी जैसे लोग तो खाली बैठे हैं।” हिन्दी रैप करने वाले गायक भी अरिजीत से परेशान दिखे।

हाल में ही सलमान ख़ान से क्लेश करने के बाद चर्चा में आए अरिजीत आजकल इतने व्यस्त हो गये है कि गानो की गिनती भूल गये है और कई बार एक ही गाना फिर से गाने के लिए स्टूडियो पहुँच जाते है। अपने गाए हुए फिल्मी गानो की गिनती करने के लिए उन्हें एक चार्टर्ड अकाउंटेंट को नौकरी पर रखना पड़ा है और अब उनकी वजह से कई पुराने गायको की दुकान बंद हो गयी है। जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्होने भारी आवाज़ में कहा- “आजकल हर कोई गाना गा रहा है यही तो समस्या है इसे बदलना होगा, अब वर्चस्व की लड़ाई होगी|”



ऐसी अन्य ख़बरें