Saturday, 29th April, 2017
चलते चलते

कोल्डप्ले के टिकट से कहीं ज्यादा सस्ता भारत को कोल्ड वॉर पड़ा था: सर्वे में हुआ खुलासा

13, Sep 2016 By Ritesh Sinha

मुंबई. कई महीनों तक चली अफवाह के बाद आखिरकार ये कन्फर्म हो ही गया कि कोल्डप्ले रॉक बैंड वाकई में मुंबई आ रहा है। मुंबई में होने वाले इस आयोजन के टिकट 25 हज़ार से लेकर पांच लाख रु. तक हो सकते हैं। टिकट के दाम सुनकर कई युवा अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं। इसी बीच एक एजेंसी द्वारा कराए गए सर्वे में खुलासा हुआ है कि कोल्डप्ले कॉन्सर्ट के टिकट से कहीं ज्यादा सस्ता भारत को 45 सालों तक चला कोल्ड वॉर पड़ा था। इस सर्वे में मुंबई के युवाओं से पूछा गया कि कोल्डप्ले सस्ता है या कोल्ड वॉर तो सबने एक सुर में स्वीकार किया कि कोल्डप्ले ही ज्यादा महंगा पड़ रहा है।

Coldplay2
“जेब में दम है तो आ जाओ हमारा गाना सुनने”

सर्वे करने वाली संस्था के डायरेक्टर रॉकी कुमार ने बताया कि “हमने सोचा कि क्यों ना कोल्डप्ले के महंगे टिकट पर युवाओं की राय जान ली जाए। दूसरे विश्व युद्ध के बाद चले कोल्ड वार में भारत ने सोवियत संघ से अपनी दोस्ती बढ़ा ली थी और इसी के चक्कर में अमेरिका से दूरी बढ़ गई। अमेरिका से रिश्ते अच्छे ना होने के कारण भारत को भारी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ा। लेकिन ये कोल्डप्ले के कॉन्सर्ट से फिर भी कम है। उस कोल्ड वार से कहीं ज्यादा नुकसान देश को कोल्डप्ले के टिकट खरीदने से हो जायेगा।”

“अभी-अभी  iPhone7 और जियो सिम के सदमे से देश के नौजवान सम्हलने की कोशिश कर ही रहे थे कि अब ये कोल्डप्ले नाम की आफ़त आ गयी।” मुंबई के रहने वाले कल्पेश सूरी ने बताया कि “मैंने ले-देकर iPhone7 के लिए पैसे जुगाड़ किए थे अब इनसे फ़ोन खरीदूं या कोल्ड वालों के गाने सुनूं! इन अंग्रेजों की लूटने की आदत अभी तक गई नहीं है। लगता है 1947 में कुछ बाकी रह गया था जो अब समेटने आ रहे हैं।”

उधर, आयोजकों ने सफाई दी है कि टिकट महंगे नहीं हैं, बल्कि टिकट तो आपको फ्री में मिलेंगे बस इसके बदले आपको गरीबों की सेवा करनी होगी। महाराष्ट्र सरकार ने महंगे टिकट को ध्यान में रखते हुए धारावी में नयी झोपड़पट्टी बनाना शुरू कर दिया है। ताकि जो लोग कोल्डप्ले के टिकट खरीदकर गरीब हो जाएँगे, उन्हें वहां बसाया जा सके।



ऐसी अन्य ख़बरें