Sunday, 17th December, 2017

चलते चलते

'अंग्रेज कभी भारत आए ही नही थे'- बॉलीवुड के डायरेक्टर ने किया दावा

28, Jan 2017 By Ritesh Sinha

जोधपुर. आज तक हर भारतीय ये मानकर चलता था कि अंग्रेजों ने हमारे देश को बहुत लूटा और हमें सन 1947 में उनसे आजादी मिली। कम से कम सरकारी स्कूलों में तो यही पढ़ाया जाता है कि अंग्रेज़ व्यापार करने भारत आए और उन्होंने हमारे देश पर कब्ज़ा कर लिया। लेकिन अब इस थ्योरी पर यकीन करने वालों को तगड़ा झटका लगा है। फुल टाइम इतिहासकार और पार्ट टाइम डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने ये दावा किया है कि अंग्रेज़ कभी भारत आए ही नहीं थे। ब्रिटेन की तरक्की से जलने वाले कुछ लोगों ने फालतू में अंग्रेजों को बदनाम कर दिया। साथ ही उन्होंने वादा भी किया कि वो अपनी अगली फिल्म में इसका खुलासा करेंगे और देश को सच्चाई बताकर रहेंगे।

Director
डायरेक्टर साब की कुर्सी

पद्मावती फ़िल्म की शूटिंग के लिए जोधपुर पहुंचे भंसाली जी ने फेकिंग न्यूज़ को बताया कि- “ये सब बकवास बातें हैं, अंग्रेज़ हमारे देश में कभी आए ही नहीं थे। बल्कि हमने ब्रिटेन पर तीन सौ साल तक राज किया है। इसलिए हमें माफ़ी मांगनी चाहिए अंग्रेजों से कि हमने उनके देश को लूटा है। पद्मावती के बाद मैं इस मुद्दे पर भी एक फिल्म बनाऊंगा और करोड़ों रूपए के सेट लगाकर ये साबित कर दूंगा कि अंग्रेज़ कभी भारत आए ही नहीं थे।”

“लेकिन आप ये किस आधार पर कह रहे हैं? क्या सबूत है आपके पास?” ऐसा पूछे जाने पर भंसाली जी ने बताया कि- “जब भी हम बॉलीवुड वाले किसी मुद्दे पर फिल्म बनाते हैं तो उससे पहले गहरी रिसर्च करते हैं। मैंने भी की है। मैं लंदन भी गया हूँ और मेरे कई दोस्त, जिन्होंने इतिहास की किताब कभी खोलकर नहीं देखीं, उन्होंने भी मुझे बताया कि इंडिया की सरकार ने अंग्रेजों पर बहुत जुल्म किए हैं।” -भंसाली जी ने तर्क दिया।

उधर, देश के प्रसिद्ध इतिहासकार एपिक कुमार ने भी संजय लीला भंसाली का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि- “वैसे मैं तो नहीं मानता कि हमने अंग्रेजों पर राज किया है, लेकिन अगर  बॉलीवुड डायरेक्टर ये कह रहा है तो यकीन करना ही पड़ेगा। क्योंकि आजकल वही हमसे ज्यादा जानते हैं।”



ऐसी अन्य ख़बरें